Business News

Difference Between Crypto Currency And CBDC

भारतीय बैंक शीघ्र ही सीबीडीसी ला सकता है। रिजर्व हाल ही में भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया था कि ई-करेंसी सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी का ट्रायल दिसंबर तक शुरू किया जा सकता है। नि करेगा लेन-देन के हिसाब से

सीबीडीसी क्या है

सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसीसीबीडीसी एक तरह की… डेटाबेस टाइप करें कागस कीसी नोट का डिजिटल अपडेट। ; ८० के दशक में ठीक उसी क्रम में.

कैसे है अलग से

इंटरनेट यह प्रबंधन नियंत्रित नहीं करता है। इसके संचार संचार संचार के नियंत्रण में होता है. ई-करा रखने वाला कर्मचारी खाता में खाता है। मल्टी डिजिटल इंटरनेशनल।

रिजर्व बैंक के अनुसार देश में करेंसी और जीडीपी का अनुपात ज्यादा है, जिसे देखते हुए सीबीडीसी को अपनाना सही होगा। स्थिर बैटरी के उपयोग में आने वाली बैटरी के लिए पर्याप्त है।

सीबीडीसी बैंक डिपॉजिट के लेनदेन में कमी सीबीडीसी के कारण सकती है। खाते पर नियंत्रण रखने वाला व्यक्ति है।

रिजर्व बैंक को प्राइवेट वर्चुअल करेंसी पंसद नहीं है इस कारण ही उसने 2018 में बैंकों और फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस को क्रिप्टोकरेंसी में डील करने वालों को किसी भी तरह की सर्विस देने से रोक दिया था। हालांकि, जांच रिपोर्ट को दुरुस्त किया जा सकता है।

यह भी आगे:

रेलवे ने जारी किया 58 वन्दे भारत का अपडेटेड, 2024 तक देश में नेगंगा 102 वन्दे भारत का अपडेट

पता लगाएं कि मोबाइल फोन आपके फोन के लिए कैसा है, जानें कैसे करें

.

Related Articles

Back to top button