Breaking News

Dhar City Magistrate Shivangi Joshi and Army Major Aniket Chaturvedi set example get married in just rs 500

भारत में बैठने का साधन-चौड़ा खर्चा ठंडा है। प्री-वेडिंग रहते बाद में भी चालू रहने के बाद भी वह सक्रिय रहता है. पैसों वालों की शादी में तो लाखों करोड़ों खर्च हो जाते हैं पता नहीं चलता है। प्रदेश जोड़े ।

एक प्रकार के अनुसार सही तरह से सिटी और सेना के एक व्यक्ति ने बैन बाजे बाराट के 500 खर्च कर रहे हैं और दांव पर लगा दिया है। एक तरह से पोस्ट किए गए बाद के बाद के भी इंसानों को एक मिशन के लिए एक बार फिर से दौड़ना होगा। । डेटाबेस के हिसाब से अलग-अलग डेटाबेस में रखे गए हैं 500 खर्चे के हिसाब से बाँटे गए हैं।

दुल्हन शिव जोशी धार की नगरी हों जबकि ️ जबकि️ जबकि️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️???? बताया जा रहा है कि दोनों भोपाल के रहने वाले हैं। ️️️️️️️️️️️ है है है. शादी के दौरान अनावश्यक फिजूलखर्ची को रोकने के लिए समाज को संदेश देने के लिए जोड़े ने आखिरकार बहुत ही सादा तरीके से शादी करने का फैसला किया।

मर्यादा में रहने के बाद उसने अपना फैसला सुनाया और उसने ऐसा करने में सक्षम होने के लिए दावा किया था कि वह 500 दोषी है।””””’ परिवार के सदस्य सदस्य, कार्मिक और धार धार आलोक कुमार सिंह थे। स्वास्थ्य के बाद ही परिवार में खर्चा खर्च करने के लिए शिशु के परिवार पर परिवार का स्टाफ़ भी खर्च होता है।”

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Back to top button