Panchaang Puraan

dev guru brihaspati rashi parivartan guru gochar jupiter transit in aquarius 2021 predictions horoscope rashifal – Astrology in Hindi

बृहस्पति का कुंभ राशि में गोचर 2021 : खराब खराब होने के कारण 21 2021 दिन में 24 घंटे खराब होने के कारण 11:30 बजे सूर्य के देवता की गणना के हिसाब से गोचर की गणना करने के लिए सूर्य की गणना करने के लिए सूर्य की गणना की जाती है। देवगुरु एक राशि में 13 जानने के लिए वक्री और मार्ग की गति के साथ गोचर ट्रिमिंग करें। देवगुरु मकर राशि में 14 से 21 तक अंक राशि कुम्भ में प्रवेश करते हैं। पूरी तरह से संपूर्ण चराचर सहित सभी घटक:

मीन राशि :-

  • भाग्य और भाग्य के कारक भाग्य में।
  • परक्रम और सम्मान में वृद्धि।
  • मित्र, भाई-बंधुओ का सहयोग प्राप्त होगा।
  • परीक्षा परीक्षा के क्षेत्र से,प्रगति।
  • प्रेमपत्य, प्रेम संबंध में सुधार, वैवाहिक प्रगति।
  • साझेदारी से लाभ और नई साझेदारी भी।
  • भाग्य का साथ।
  • व्यापार या उद्यम के लिए खर्च बड़ा होगा।

उपाय :- मंदिर की देखभाल की देखभाल और सेवा करें।

सूर्य के वृश्चिक राशि में प्रवेश करने वाले इन राशियों का भविष्य, आने वाले 25 दिन के समान हैं

वृष राशि :-

  • अष्टम और कारक कारक स्थिति में।
  • काम में वृद्धि,
  • जमीन जायदा, घर और वाहन में वृद्धि।
  • माता के सुख में वृद्धि और वृद्धि।
  • और धनागम की नई व्यापार वृद्धि।
  • आंतरायिक रोग, रोग की समस्या।
  • नई साझेदारी,नया व्यापार में वृद्धि।
  • ॉअध्यापन, यह क्षेत्र हानिकारक है।

उपाय :- सत्यनारायण व्रत कथा का श्रवण।

मिथुन राशि:-

  • सप्तम और राज्य का कारक भाग्य भाव में।
  • पर्सनैलिटी, सम्मान, सम्मान और वृद्धि।
  • परक्रम, दोस्तो,- परिवार के सुख में वृद्धि।
  • विवाह का समर्थन और प्रेम में वृद्धि।
  • व्यापार, आधुनिक ज्ञान की प्राप्ति।
  • सुन-अध्यापन, शिक्षा व संतान की प्रजनन।
  • कार्य क्षेत्र में प्रगति कर रहा है।
  • भाग्य बढ़ने के लिए जैसा बनावटी बनावट

उपाय :- अपने से संस्कारों,साधु संतों के ब्राह्मणों का सम्मान करें। पीपल के देखभाल करें।

21 वृश्चिक राशि वालों ने बुध-सूर्य बना लिया है बुधादित योग, इन राशि वालों को महालाभ

कर्क राशि :-

  • रोग और भाग्य कारक अष्टम भाव में।
  • धनागम और धन की नई वृद्धि।
  • कार्य वृद्धि ,परिवार में नया।
  • भूमि ,स्थिरता संपत्ति, गृह और वाहन सुख में वृद्धि।
  • व्यक्तिगत, व्यावसायिक और व्यावसायिक शिक्षा।
  • ,
  • ️ शत्रु️ शत्रु️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️🙏
  • नियति में रुकावट के साथ प्रगति।

उपाय :- ग्रीलिंग की 5 अधिष्ठापन वार के एक देवस्थल परावर्तक।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button