Panchaang Puraan

Dev Guru Brihaspati 2022: Devguru Jupiter is going to set people of these 3 zodiac signs should be careful – Astrology in Hindi

भविष्य में किसी भी ग्रह के व्यक्ति के जीवन पर भविष्यफल होगा। देवगुरु बृहस्पति 22 फरवरी 2022 को अस्त होने जा रहे हैं और 23 मार्च 2022 को उदित होंगे। वृहद अश्रवण का सभी प्रकार के क्रियाकलाप, क्रियाकलाप 3 वृहद रूप से सम्‍मिलित होने वाले सम्‍भावित दुबले होते हैं। इन राशियों के बारे में-

गुर्जर के काम की भविष्यवाणी-

गुरु बृहस्पति में अस्त हो जाएगा। गुरु को कार्य, धनसंता, सौभाग्य से, लाभकारी गुण फलित होता है। गुरु ग्रह पर अस्त होने के बाद भी ऐसा लग रहा था। इस प्रकार-विवाह, मुंडन, वैट वैट-विवाह, कीटाणु-विवाह, कीटाणु-विवाह, कीटाणु-विवाह, गुरु अस्त के लिए 22 फरवरी से 23 अक्टूबर तक विज्ञापन कार्यक्रम संशोधित करें।

2 फरवरी को इन राशिफलों पर प्रभाव, सूर्य की तरह दिखने वाला भाग्य, ज्योतिषाचार्य से राशिफल

इन राशियों की वृद्धि मुश्किलें-

गुरु अस्त होने से पहले, मीन और धनु राशि में वृद्धि कर सकते हैं। इस राशि के साथ भी ऐसा ही करें। इन्फर्मेशन से संबंधित। इस तरह से कर सकते हैं। एक भी वाद-विवाद से। कर्क, मीन राशि और धनु राशि वालों के संपर्क में आने पर.

28 फरवरी तक इन राशियों के मान-सम्मान और धन-पदा में वृद्धि, 5 फरवरी से लेकर नया में नया जोड़

गुरु गुरु का महत्व-

देवगुरु ग्रह धनु और मीन राशि के स्वामी बृहस्पति। गुरु को कर्क राशि में उच्च और मकर राशि में वृद्धि होती है। ज्योतिष विज्ञान में गुरु 27 नक्षत्र में दोबारासु, विशाखा और पूर्वा भाद्रपद के स्वामी होते हैं। शास्त्र के अनुसार, जिस व्यक्ति पर देवगुरु की कृपा होती है, वह सत्य के मार्ग पर होता है।

इस शोध में पूरी जानकारी है। क्षेत्र से संबंधित क्षेत्र के जानकारों…

.

Related Articles

Back to top button