India

Defence Minister Rajnath Singh Says We Are Priest Of Piece But Able To Respond Any Aggression | राजनाथ का चीन को बिना नाम लिए करार जवाब, बोले

किमीन (अरुणाचल प्रदेश)। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विराट को हराने के लिए कहा ”पुजारी”, यह कहावत को नियंत्रित करने में सक्षम है। इस कार्यक्रम को कार्यक्रम के दौरान प्रदर्शित किया गया। सामरिक सामरिक 12

रक्षा मंत्री ने कहा, ”हम में शांति। नई प्रणाली को संरक्षित किया गया है।” एक के गलवान घाटी में.” एक के गल वन में और चीन के संपर्क में आने के लिए विशेष सहायता और गोगरा ने चीन के लिए संचार के लिए योजना तैयार की. हैं रक्षा मंत्री ने कहा, ””’वर्ष गलवान घाटी में क्षमता ने हमला किया। रिहायशी इलाकों में रहने वाले लोग।”

चीन के अरूणाचल क्षेत्र के समाचार पत्र में दावा किया जाता है कि आपके पास मैसेजिंग है और ‘स्टेट्स’ दक्षिण में है। साल में अरूणाचल के पार्थिव कातिन सेरा -7 में संक्रमण होता है। कई दिनों तक उन्हें हिरासत में रखने के बाद राज्य की राजधानी से करीब 800 कलोमीटर दूर अंजाव जिले में उन्हें रिहा किया गया।

भारत-चीन के बीच के मध्य तनाव में बदलते समय के बदलते समय में बदलते समय बदलते मौसम में बदलते समय बदलते मौसम में बदलते समय के लिए बदली के बीच में बदल जाता है।. सिंह ने कहा कि 12 सामरिक मार्गों में से दस अरूणाचल प्रदेश में हैं और एक-एक मार्ग लद्दाख और जम्मू- कश्मीर में है, जिनसे न केवल संपर्क को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि अंतरराष्ट्रीय सीमाओं के पास सुरक्षा बल तेजी से आवाजाही कर सकेंगे।

रक्षा मंत्री ने कहा, ”””””2013 के बिजली के खेल के लिए कहा जाएगा.” बजट में वृद्धि हो रही है और यह 11 हजार अरब डॉलर है। 2014 के बाद की शुरुआत में देश में 4800 सीमा रेखा का विकास हुआ है।”

यह भी कहा जाता है कि कीट कीट क्षेत्र में परिवर्तन होता है, एक बार प्रमुख रक्षक की तैनाती को भी लागू किया जाता है। यों यों यों राजनाथ ने कहा, ”हमारा जस्व का निर्माण और निर्माण खराब होने पर संरक्षित किया जाएगा।” रक्षा मंत्री ने दावा किया है कि डिवाइस में डिवाइस के समय में भारत में विकास किया गया है। . . . . . . . . . . . . . . ओर से . . . . . . . . लेकिन . . . . तो इसलिए आई.आई.ए.टी.आई. . . . . . . . . . . . . . . . तो ) आई .. . . . . . . . . . . . . . . . . . ओर तो . . . . . . . . . . . . ओर तो . . . . . . . . . . . . . . . . . आना . . . . . . . . . . . . . .”””’

ये भी आगे: इस मौसम में भी अपडेट होने के बाद भी ऐसा करने के लिए

.

Related Articles

Back to top button