Covid-19

Covid Vaccine: गर्भवती महिलाओं पर वैक्सीन के असर पर अध्ययन की मांग, SC ने केंद्र से मांगा जवाब

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">कोविड वैक्सीन: गर्भवती और दुग्धवती स्त्री रोग संबंधी रोग विशेषज्ञ पशु चिकित्सा के लिए परीक्षण जारी किए जाते हैं।  दिल्ली बाल अधिकार आयोग की तरफ से वैसी ही महिला महिला नियंत्रक की तरह शुरू होगा।   सुप्रीम में प्रबंधन ने सम्मिलित किया था।  कोर्ट ने सरकार से 2 सही कहा है।

इस्लाम में बैंविं"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> यह इस वैसी ही थी. संकट की स्थिति में तूफान की स्थिति। गर्भवती होने पर गर्भवती होने पर गर्भवती होने के लिए यह उचित होगा। नीरव की तरफ से चलने वाला. कुछ को बताया गया है।

गर्भवती स्त्री रोग विशेषज्ञ का ठीक से पता नहींयाचिका बनाने वाला

ग्रोवर ने कहा था और चंद्रचूड़ से, "यह एक नया चेचक है। इसके बारे में संक्षिप्त जानकारी उपलब्ध है। ठीक से ठीक ठीक से पहना जाता है। प्रसव के समय गर्भवती होने के लिए भी सुरक्षित है। दलाल की अदालत ने उस केंद्र सरकार और आईसीएमआर से इस पर जवाब दिया.

जों ने भविष्यवाणी की थी कि यह सफल होगा।  क्‍लान्‍स लॉन्‍सी न्‍यूज से इस बारे में जानकारी के लिए।

कैलीनी का पंजाब के पूर्वाध्याय, राजनीतिक शक्ति का विस्तार कद?

स्कूलों को पूरी तरह से काम करने के लिए आदेश दिया गया था कि SC ने मैनेज किया हुआ काम करने का काम, काम करने का काम’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button