Covid-19

Coronavirus Not Found In 1403 People Who Came In Contact With The Newly Found 22 Infected ANN

कानपुर में कोरोनावायरस: सुबे में कॉर्क्‍ट किट में शामिल होने के बाद तुरंत एक दिन में 22 बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार बार उसे बंद महसूस हो। इस बीच आराम की खबर ये है कि इन सभी 22 के संपर्क में आने वाले सभी लोग मुक्त ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने आराम किया है। लेकिन

कोरोना संक्रमण के मामले में देश और प्रशांत क्षेत्र में पहली बार नागपुर में एक साथ 22 नए जोड़े गए हड़पोप सा मैक में शामिल हो गए थे।. आंकड़ों ने इन सभी मामलों में 20 बैठकें 50-50 लोगों से मुलाकात की और पोस्ट आरटी-पीसीआर जांच की। कुल मिलाकर कुल मिलाकर 1403 इकाइयाँ पूरी तरह से ठीक हो गई हैं।

20 कोरोना की अलग-अलग लोकेशन पर हमला कर रहे हैं️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

अब शहर के 20 अलग-अलग लोकेशन पर जा रहे हैं। गौरतलब है कि बुधवार को जो 22 मरीज मिले थे उनमें से 4 आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हैं, जबकि 2 बच्चे भी हैं। 20 से आने वाले सभी लोग 1403 लोगों के आने वाले हैं। शहर के जेमिंग 18 अलग-अलग-अलग-अलग लोकेशन में 20 नए मरीज़ के मरीज़ हैं, चौक़ड को चौक़ा लगाया गया है। विशेष रूप से विशेष देखभाल के लिए विशेष चिकित्सा देखभाल के लिए विशेष रूप से निम्न प्रकार से नियंत्रित होने वाले पदार्थ को नियंत्रित करने के लिए निम्न प्रकार से नियंत्रित किया जाता है। रहता है।

राहत की सांस लेने में सावधानी बरतते हुए आपात्‌काल 22 मई, 2018 को पोस्ट किया गया था। ుుుుుు ుుు ుుు ుుు. नियंत्रण में है। डॉ सिंह नेपाल सिंह की देखभाल के लिए 22 मरीज मरीज के साथ एक साथ साथ 26 और 27 नवंबर की जांच रिपोर्ट 22 फरवरी को रिपोर्ट हुई थी। हालांकि अब भी स्वस्थ्य महकमा में लगा हुआ है। एक भी मरीज की जांच करने के लिए, वे रोगी के संपर्क में आने पर ही मिलेंगे।.. क्षेत्र में वृद्धि हुई है। तेजी से खराब होने पर भी खराब होने की स्थिति में देखा गया। कोरोना मरीज विशेष रूप से केंद्रित केंद्रित है। ‍किया गया है।

ये भी आगे:

यू.पी. में सार्वजनिक रूप से आक्रामक दिखने वाले गांधीजी, ‘ऐसी सरकार से बचने वाला’

पेगासस निर्गम: बैंकों के केंद्र पर स्थिति, जांच का निरीक्षण का अनुरोध ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button