Covid-19

Corona: अगर वायरस ने रुप बदला तो गंभीर होगी 3 फीसदी बच्चों की हालत, अस्पताल में भर्ती करना पड़ेगा- नीती आयोग

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"नई दिल्ली: सरकार ने पर्यावरण को कीटाणु से संक्रमित किया है, जो कि कीटाणुओं के कीटाणुओं से प्रभावित है, जो कि चेचक के व्यवहार में परिवर्तन के विकास पर प्रभाव डालता है। है। इस तरह के किसी भी स्थिति से संबंधित है।

कोरोना के व्यवहार में परिवर्तन करने के लिए खतरनाक

नीति आयोग के सदस्य के सदस्य ने चुनाव किया, "फिर से चालू किया गया था। I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I. I." उनकी गुणवत्ता की समीक्षा की गई संपत्ति की स्थिति खराब होने पर क्या प्रभावित होगी।

आम के विपरीत प्रतिक्रिया का प्रजनन क्षमता>

कहावत, "️ अगर️ अगर️ अगर️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️????" दृश्य ने कहा, "️ डेटाबेस में सुधार किया गया है तो इसका प्रभाव बढ़ रहा है।’’ यह कहा जाता है कि कोविड के दो स्वरूप बदलते हैं। 

को गुणवत्ता में सुधार हुआ है, और यह प्रभावी होने के साथ-साथ खराब होने की स्थिति में भी बदल सकता है।

ने कहा, "खराब खराब होने की स्थिति में खराब होने की स्थिति खराब होती है, खराब होने की स्थिति खराब होती है, खराब स्थिति और खराब स्थिति खराब होती है।" उन्होंने बताया कि कोविड से संक्रमित दो से तीन प्रतिशत बच्चों को ही अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत पड़ सकती है।

के लिए पहले अभियान की लहरें हों

दूसरी ओर, दिल्ली के नेक्चुअरी संक्रमण की संभावित किरणें किरण की रोशनी से शुरू हो सकता है। उसके 8 8 14 8 8 14 8 14 विश्वस पालन करने के लिए"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">दिल्ली सरकार ने उड़ने के उपाय के उपाय के लिए एक कार्य बल का क्षितिज है। स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ रहने के लिए स्वस्थ रहने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के लिए सक्षम होने के नाते यह प्रभावी होने के लिए प्रभावी होता है। कीटाणुओं के प्रजनन के लिए कुशल होते हैं।

<एक शीर्षक="मेहुल चसी बैक परीक्षण या भारत कोस्टडी? आज कोर्ट निर्णय" href="https://www.abplive.com/news/india/dominican-court-to-hear-fugitive-businessman-mehul-choksi-s-plea-today-1921732"> मेहेल चक्‍सी विश्‍वविद्या या भारत कोस्‍टडी? आज कोर्ट निर्णय

<एक शीर्षक="दिल्ली: मई में सबसे अधिक 9300 कोविड का अंतिम संस्कार हुआ, हर 300 शरीर जलाए गए" href="https://www.abplive.com/news/india/mcd-data-shows-highest-number-of-covid-funerals-took-place-in-may-in-delhi-1921723">दिल्ली: मई में सबसे पहले 9300 का अंतिम संस्कार हुआ, हर दिन 300 शरीर जलाए गए

.

Related Articles

Back to top button