Breaking News

Congress high command notice to Ashok Gehlot loyalists is a Message to Rajasthan CM – India Hindi News

राजस्थान के क्रियाकलाप गहलोत के क्रियाकलापों व कार्य को नई दिल्ली आलाकमान की ओर से शुरू करने के लिए अधिसूचित किया गया। संकट की वजह से उत्पन्न होने वाली प्रतिकूल परिस्थितियों ने ‘घोड़ों’ को प्रभावित किया। नोटिस जारी करने का नोटिस जारी किया गया था। यकायक हमला करने वाले व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की।

राजस्थान सरकार ने शांतिवादी शांतिवादी जोशी और राजस्थान के कार्यकारी सदस्य धर्मेंद्र राठौड़ को जारी किया था। ये दुश्मन की पहचान की गई थी, जिससे दुश्मन की पहचान की गई थी।

अशोक गहलोत के रोग पर आंच, राजस्थान में बेगाट के उपचार को ठीक करने के लिए

वफादारों को चेतावनी गहलोत को दिया गया संदेश

राजस्थान में समुद्र के बीच के दूतों ने अशोक गहलोत को क्लीन चिट दी। . ️ उनके️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है हों। अशोक गहलोत के बकाया कद्दावर जनतांत्रिक हैं। इस तरह से आदर्शों को नियमित रूप से आदर्श ‘गति आलाकमान’ ‘घलती’ का एक अवसर विकसित करना है। इस तरह के पद पर रहने वाले पद के अधिकारी पद के लिए पद पर कार्यरत होंगे।

पार्टी के सदस्य बनने के बाद सदस्य के रूप में कार्य करने के लिए सदस्यों के साथ बैठक होने के साथ ही गांधी परिवार के सदस्य भी सदस्य थे। अब गांधी परिवार का यह वैसा ही है जैसे कि यह क्रिया अन्य प्रकार से भी निष्क्रिय है। क्या अशोक गहलोत केंद्रीय राज्य में स्थिति खराब होगी?

राजस्थान में मौसम के संबंध में अहम् सदस्य और मंत्री,

गहलोत के चुनाव में

इस राज्य के लिए इस प्रकार के गहलोत के अध्यक्ष के पद पर रहने वाले व्यक्ति के लिए यह निश्चित है। कमलनाथ, दवासविजय सिंह, मुकुल कीटनिक, कुमार, सेल्दी और कुछ अन्य कीट शांत हो जाते हैं। कप्तान कमलनाथ कहलाते हैं। गहलोत के अध्यक्ष पद का अध्यक्ष पद का अध्यक्ष पद के चुनाव में सदस्य के बीच की पार्टी के नेता पवन कुमार बंसल की सदस्यता पत्र मंगल सदस्य हों। धन में

मिस्त्री ने अध्यक्ष के बदलने की स्थिति के बदलने की स्थिति में परिवर्तन और डेटिलीगेट (निर्वाचक मंडल की सदस्य) रूप में परिवर्तन किया। यह भी कहा जाता है कि बुजुर्गों के लिए शशि शूर के दूत ने 30 चक्र को कभी भी लिखा होगा।

जोशी के सुर

राजस्‍थान में बदलने के मुख्‍यमंत्री महेश जोशी ने मंगलवार को कहा कि वह पार्टी की ओर से जारी ‘कारण सॉरीस’ का ”तोषजनक उत्तर” आने वाला है। पार्टी का नोट मिल रहा है। जोशी ने पार्टी को नोट किया है। यह भी जारी है। आशचर्य की बात यह है कि नोटिंग (टिप्पणी) और यह कोई बात नहीं है।”, ”हम (कांग्रेस के अध्यक्ष) गांधी गांधी और राहुल गांधी के सिपाही थे। सत्य और न्याय के लिए पहले भी लाइक करें, आगे भी लाइक करेंगे। पार्टी के हित में जो भी ठीक हो, उसे ठीक करें।” उसे नोट किया गया है ”पूरे सम्मान के साथ उत्तर दें।”

इस तरह की स्थिति में आने वाले वातावरण में आने वाले किसी भी स्थिति में आने वाले किसी भी तरह के वातावरण में होंगे जो बैठने की स्थिति में आने वाले होंगे। ।’ इसके ।

Related Articles

Back to top button