Business News

Company to File Draft Papers Next Week, Says Report

अगले सप्ताह, वन97 संचार, फिनटेक दिग्गज की मूल कंपनी Paytm, 12 जुलाई तक अपना ड्राफ्ट प्रॉस्पेक्टस दाखिल करेगा। यह एक प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश (IPO) के लिए होगा, जो रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, लगभग 2.3 बिलियन डॉलर जुटाने की कोशिश कर रहा है। पैसे जुटाने के लिए नए पेटीएम शेयरों को बेचा जाएगा और बिक्री की एक माध्यमिक पेशकश भी होगी। दोनों को 24 अरब डॉलर से 25 अरब डॉलर के बड़े पैमाने पर मूल्यांकन तक आना चाहिए। रॉयटर्स के अनुसार, दिल्ली में होने वाली शेयरधारकों की असाधारण आम बैठक (ईजीएम) के बाद 12 जुलाई को प्रॉस्पेक्टस दाखिल किया जाना है।

पेटीएम ईजीएम बैठक में अपने शेयरधारकों की मंजूरी की मांग करेगा ताकि नए शेयरों को $ 1.61 बिलियन के मूल्य पर बेचने के लिए मंजूरी मिल सके, जिसमें 1 प्रतिशत की ओवर-हेड सदस्यता को बनाए रखने का एक अतिरिक्त विकल्प है। फिनटेक दिग्गज ने रॉयटर्स के अनुसार आईपीओ के लिए जेपी मॉर्गन चेस, मॉर्गन स्टेनली, आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, गोल्डमैन सैक्स, एचडीएफसी, सिटी और एक्सिस की सेवाएं ली हैं।

आईपीओ में कंपनी का कदम ऐतिहासिक है, जो भारतीय इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा आईपीओ है। सार्वजनिक होने के अलावा, कंपनी अपने कर्मचारियों को ‘ऑफर ऑफ सेल’ (ओएफएस) के माध्यम से कंपनी के शेयरों को बेचने का विकल्प भी देगी, जिसे बाजार में शुरुआत से पहले कर्मचारियों के बीच परिचालित किया गया था।

पेटीएम का कदम बड़ी लीग में: सफलता का कारण

पेटीएम की बड़ी सफलता और इस तरह के आईपीओ का महत्व उस व्यवसाय रणनीति के कारण है जिसे कंपनी ने वर्षों से बनाए रखा है। इसके बहु-स्टैक्ड दृष्टिकोण जिसमें संचालन के कई स्थान शामिल थे, ने एक स्थिर और प्रभावशाली राजस्व धारा सुनिश्चित की। यह कंपनी की वार्षिक वित्तीय रिपोर्ट में परिलक्षित हुआ, जिसने संकेत दिया कि कंपनी ने वित्त वर्ष २०११ के लिए ३,१८६.६० करोड़ रुपये का राजस्व हासिल किया था।

पेमेंट गेटवे और पेटीएम वॉलेट, पेटीएम यूपीआई और पेटीएम बैंक अकाउंट जैसी अन्य सहायक सेवाओं के उपयोग में महामारी और आगामी स्पाइक के लिए धन्यवाद, एक वर्ष में व्यवसाय में तेजी आई, जहां अधिकांश व्यवसायों को कड़ी चोट लगी। फिनटेक कंपनी ने वित्त वर्ष २०११ तक अपने घाटे पर ४२ प्रतिशत की कमी लाकर वित्त वर्ष २०१० में घाटे को २,९४२.३६ करोड़ रुपये से अगले वित्तीय वर्ष में १,७०१ करोड़ रुपये कर दिया। पेटीएम ने एक वित्तीय वर्ष की अवधि में अपने घाटे को लगभग आधा कर दिया है। सॉफ्टबैंक और एंट फाइनेंशियल द्वारा फंड जुटाने के बाद 2019 में पिछले मूल्यांकन में कंपनी का मूल्य 16 बिलियन डॉलर था।

सभी पढ़ें ताजा खबर, आज की ताजा खबर तथा कोरोनावाइरस खबरें यहां

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button