Panchaang Puraan

Chhath Puja 2021 : Date Time Puja VIdhi nahay khay ka samay and samagri ki list – Astrology in Hindi

छठ पूजा 2021: शुक्लों के षष्ठी होने की तारीख से तारीख तय हो गई है। दूरस्थ क्षेत्र, बिहार और में छठ का महापर्व ही धाम- धाम से संबंधित है। इस पर्व के लिए खुशखबरी है। छठ के वर्क छठ के शुक्ल पक्ष में है और सूर्यदेव की पूजा-अर्चना की है। सूर्य देव के मानस उड़ने वाले हैं।

छठ का महापर्व 8 नवंबर से शुरू होगा

  • छत्तीस पर्व की छुट्टी के बाद छुट्टी का त्योहार है। इस साल 8 नवंबर से छठ पूजा की शुरुआत।

पूजा-विधि-

  • छठ का महापर्व 4 खुश रहने के लिए। नहाय- खाय से छठ की पूजा में है।

बहुगुणी के धनी ये राशि, हर काम करने वाले

नहाय- खाय

  • 8 नवंबर 2021 को नहाय- खायें. पूरे दिन साफ-सफाई करने वाले को पूरा करेंगे। अनाज दाल, कड की इस सब्जी और चावल का प्रसाद है। दिन में खरना से व्रत की शुरुआत।

खुराना

  • खरना 9 नवंबर 2021 से शुरू हुआ। इस प्रकार पूरे दिन चलने वाले व्रत को पूरा करने के बाद, सूर्य देव की पूजा करने के बाद यह अच्छा होगा। व्रत का पालना करने के बाद उसे पूरा करना होगा.

खरना के अगले दिन सूर्य को अर्घ्य है

  • खरना के पिछले दिन के समय के समय में सुबह उठने के बाद, वे उठने के लिए सूर्य देव को तैयार होते हैं। इस साल 10 नवंबर 2021 को शाम को सूर्य को अर्घ्य दें।

छठ पर्व का

  • खरना के पिछले छठ का अनुरोध किया गया है। इस साल 11 नवंबर को महापर्वर्व ने कन्फ़्यूज़ किया था। सूर्योदय से पहले सुबह उठें और सूर्यदेव से जल उठें। मर्यादा बाद में सूर्य देव को अर्घ्य के बाद पूजा का व्रत का पालन करना होगा।

मंगल राशि परिवर्तन 2021: 5 तारीख तक तारी रेखा में मेल मिलाना के स्वामी मंगल, इन 6 राशियों के लिए समय

छठ पूजा सामग्री सूची-

प्रसाद के लिए बैगन की तीन बड़ी टोकियाँ, बैग या पत्तल के बने तीन सोप, लोटा, पटल, दूध और जल के लिए, नया कपड़ा साड़-कुर्ता पजामा, चावल, लाल सिंदूर, सौंफ और पानी वाला दीपक, पानी वाला कोनी , सुथनी और शकरकंदी हो, सुथनी और शकरकंदी, लहसुन और शकरकंदी, अच्छा और दैहिक मिंट लिन, टाब के लिए, वैब की डब्बी, कैने की डब्बी, कैने, कूपर, कुम, चन्दन , मीठा।

.

Related Articles

Back to top button