Panchaang Puraan

Chandra grahan 2021: Buddha Purnima will the impact and lunar eclipse affect the Purnima katha and daan

दिनांक 25 मई 2021, दिन का दिन 08 बजकर 30 पूर्णिमा से शुरू होगा, बुधवार को दिनांक 04 बजकर 43 बजे तक। 26 मई बिद्ध पूर्णिमा को चंद्रकला यह भी दिखाई देगा। अत: सुतक कथन।

भारत में बदलाव के चरण के पहले चरण में पूर्व-पूर्वी (सिक्किम को नवीनतम), खराब के कुछ ब्रेक, अगंड के ब्रेक से पहले, निकोबार के कुछ बदली से दिखाई देगा। भारत में ये उपाध्याय चंद्रा है। इस कारण ठीक नहीं होगा। पूर्णिमा की कथा, दान-पुण्य और स्नान पर कोई भी नहीं होगा।

भारत चंद्रा का समय
26 मई को दोपहर 2.17 बजे शुरू होगा और सुबह 7.19 बजे से शुरू होगा
पूर्णिमा 26 मई को शाम 04 बजकर 43 मिनट तक

वैशाखी पूर्णिमा के दिन शक्कर और तिल दान करने से अनजान में हुए पापों का भी क्षय हो जाता है। विष्णु भगवान विष्णु के… तिल के तेल का दीपक जलाएं।

.

Related Articles

Back to top button