Panchaang Puraan

Chaitra Navratri Durga Ashtami 2022: Very auspicious yoga is being made on Durga Ashtami Know mahagauri Pujan Muhurat – Astrology in Hindi

हिन्दू धर्म में चैत्र नवरात्रि का विशेष महत्व है। यूं तो हर कुल चाणक्य पूरी तरह से नियंत्रित होते हैं, वे चैत्र व शारदीय होते हैं। चैत्र नवरात्रि के दिन माता-पिता की स्थिति की स्थिति खराब होती है। मन्जंजेन्बे को प्रसंसित करने के लिए भक्त किराए के लिए किराया विविवत पूजा-अर्चना करते हैं। चैत्र की तारीख से पहले की तारीख़ समाप्त हो गई है। चैत्र पूरे दिन खराब रहता है। इस बच्चे को श्रीराम का जन्म हुआ था। नवमी से एक दिन पहले अष्टमी हैं। बैट्सबैक के मैच के बाद तारीख़ तारीख़ तारीख़ तारीख़ तारीख़ तारीख़- दिनांक

दुर्गा अष्टमी पर बन रहा ये शुभ योग-

हिन्दू पंचांग के हिसाब से, 10 अप्रैल 2022 को रात 01 बजकर 23 बजे तक अष्टमी तिथि। नवमी तिथि समाप्त होने के बाद. ट्विट, 9 बजे रात 11 बजकर 25 मिनट पर सुकर्मा योग लगा। सुकर्मा योग को ज्योतिष में शुभ योग। इस योग में सफल होने की संभावना है। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, सुकर्मा के साथ मिलकर काम करना बेहतर है।

संबंधित खबरें

8 या 9 अप्रैल कब है रामनवमी? जानेंजानें, श्रीराम के प्रति का उत्तम मुहूर्त व विधि

दुर्गा अष्टमी 2022 शुभ मुहूर्त-

ब्रह्म मुहूर्त- 04:32 ए एम से 05:17 ए एम।
अभिजित मुहूर्त- 11:57 ए एम से 12:48 पी एम।
विजय मुहूर्त- 02:30 पी एम से 03:20 पी एम।
धूली मुहूर्त- 06:31 पी एम से 06:55 पी एम।
अमृत ​​काल- 01:50 ए एम, अप्रैल 10 से 03:37 ए एम, अप्रैल 10
सूर्य योग- 04:31 ए एम, अप्रैल 10 से 06:01 ए एम, अप्रैल 10

नवरात्रि के आठवें दिन दुर्गा का स्वरुप-

नवरात्रि के आठवें दिन महागौरी की पूजा की जाती है। .

12 अप्रैल तक 3 अंकगणित के बाद एक कड़ी मेहनत, बुधदेव दाता पिच प्रभाव

Related Articles

Back to top button