Education

बल्ब का आविष्कार किसने किया और कब?- हिंदी में

bulb ka avishkar kisne kiya - bulb ka avishkar kisne kiya tha

जब इलेक्ट्रिक बल्ब का अविष्कार नहीं हुआ था उसके पहले लोग रोशनी के लिए मोमबत्ती और मशाल जलाते थे लेकिन इसके रख रखाव में बहुत परेशानी आती थी जिसके बाद बहुत सारे विज्ञानिक इस परेशानी का समाधान निकालने में लग गए जिसकी बाद इलेक्ट्रिक बल्ब का आविष्कार हुआ आविष्कार होने के बाद जैसे विश्व का नक्शा ही बदल गया यह एक वरदान के रूप में हमें प्रदान हुआ क्योंकि पहले के समय में मोमबत्ती और मसाल जलना पड़ता था जलाना पड़ता था यह एक सीमित समय तक ही जलती थी आज के इस आर्टिकल में हम सब यह जानेंगे बल्ब का आविष्कार किसने किया और कब।

बल्ब क्या है?

बल्ब एक प्रकार का उपकरण ही होता है जो रोशनी प्रदान करता है इसको रोशनी प्रदान करने के लिए विद्युत की जरूरत पड़ती है अगर किसी भी जगह पर Current पहुंचती है तो आप वहां पर भी बल्ब का इस्तेमाल कर सकते हैं इसके अंदर 1 तर होता है जब उसके पास विद्युत प्रभावित होती है तो वह गर्म होने लगता है और रोशनी प्रदान करता है।

बिजली के बल्ब का आविष्कार किसने किया था?

क्या आप जानते हैं विद्युत बल्ब का आविष्कार करने वाला वैज्ञानिक कोई आम वैज्ञानिक नहीं था उनका नाम थॉमस ऐल्वा एडीसन (Thomas Alva Edison) था जिन्होंने बहुत सारे आविष्कार किए थे।

बल्ब का आविष्कार कब हुआ था? (bulb ka avishkar kisne kiya)

थॉमस ऐल्वा एडीसन ने बल्ब का आविष्कार किया था यह बात तो प्रमाणित है लेकिन जब हम ऑनलाइन इंफॉर्मेशन देखते हैं कि बल्ब का आविष्कार किस सन में हुआ था तो हमने कई प्रकार के Year देखने को मिलते हैं जिसमें से अधिकतर जगह पर यह वर्ष 1879 देखने को मिला तो हम यह कह सकते हैं थॉमस अल्वा एडिसन ने 1879 में बल्ब का आविष्कार किया था।

बल्ब का आविष्कार कैसे हुआ था?

इस आर्टिकल को पढ़ने से आपको यह तो मालूम चल गया होगा बल्ब का आविष्कार किसने किया था और कब किया था लेकिन अब आपके मन में एक प्रश्न आता होगा की बल्ब का आविष्कार कैसे हुआ

विद्युत के इस्तेमाल से रोशनी करने का सबसे पहला विचार English Chemist Humphrey Davy के मन में आया था लेकिन Humphrey Davy ने अपने से जो बल्ब बनाए था वह कुछ समय तक ही जल पाता था उन्होंने सबसे पहले यह दिखाया की जब विद्युत को तारों के माध्यम से प्रभावित्त किया जाये तब वो तार गर्म होकर रौशनी पैदा करने लगते है

लेकिन Thomas Edison को ही बल्ब के आविष्कार करने का श्रेय दिया जाता है क्यूंकि उन्होंने सन 1879 को carbon filament light bulb पूरी दुनिया के सामने पेश किया था

Thomas Edison ने एक ऐसी तोड़ निकाली थी जिसमें वो thin carbon filament के साथ बेहतर design का इस्तमाल करते थे जिसमें की बेहतर vacuums का इस्तमाल किया गया, जो की आगे चलकर दोनों scientific और commercial challenges को ख़त्म करने में सफल रहा और अंत में light bulb बनकर तैयार हुआ।

Also Read: Flipkart Ka Malik Kaun Hai

Bulb के प्रकार कितने हैं?

आज के समय मे मार्किट में बहुत प्रकार के बल्ब मौजूद हैं पर उनमें से सबसे ज्यादा कुछ प्रकार के बल्ब इस्तेमाल मे लिए जाते है जो कुछ यह है

  • Incandescent bulbs
  • Halogen bulbs
  • Fluorescent lamps
  • Light emitting diode (LED)
  • Compact fluorescent lamps (CFL)

बल्ब में कौन सा धातु होता है?

बल्ब में टंगस्टन धातु का उपयोग विद्युत बल्बों के फिलामेंट बनाने के लिए किया जाता है। यह एक बहुत ही उच्च गलनांक वाली एक मिश्र धातु होती है।

बल्ब का फिलामेंट क्या है?

आधुनिक बल्बों के फिलामेंट टंगस्टन धातु के बने होते हैं। आपको जानकर आश्चर्य होगा कि जब थॉमस अलवा एडिसन ने बल्ब का आविष्कार किया उसने उन्होंने फिलामेंट के रूप में कार्बन का इस्तेमाल करते थे । यानी दुनिया का पहला बल्ब कार्बन का बना था।

क्या सच में Thomas Edison ने ही बल्ब का आविष्कार किया था?

इसका जवाब हां भी हो सकता है और नहीं भी क्योंकि आज तक जितने भी अविष्कार हुए हैं उसमें एक वैज्ञानिक की ही कोशिश नहीं पर पहले बहुत सारे वैज्ञानिकों ने कोशिश की है फिर इलेक्ट्रिक बल्ब का आविष्कार भी असल में बहुत सारे वैज्ञानिकों की कोशिश थी

कुछ इतिहास है माना जाता है कि इलेक्ट्रिक बल्ब के अविष्कारक में 20 से भी ज्यादा वैज्ञानिकों ने अपना-अपना डिजाइन निकाला था लेकिन उसमें सबसे ज्यादा योगदान थॉमस अल्वा एडिसन जी का माना जाता है क्योंकि वह पहले एकमात्र वैज्ञानिक थे जिन्होंने के पहला commercially practical बल्ब तैयार किया था.

बल्ब का आविष्कार एवं एडिसन के जीवन की रोचक बातें?

बल्ब का आविष्कार कब हुआ था? (bulb ka avishkar kisne kiya)

  • थॉमस एडिसन का जन्म 11 फरवरी, 1847 को हुआ था, उनका निधन 18 अक्टूबर, 1931 को हुआ था।
  • थॉमस अल्वा एडिसन ने 14 साल की आयु में 3 साल के एक छोटे बच्चे को ट्रेन के नीचे आने से बचाया था।
  • एडिसन ने बल्ब के अलावा कई सारे आविष्कार किए थे जिसमे से एक आवाज रिकॉर्ड करने वाले और प्लेबैक करने वाले फोनोग्राफ का भी आविष्कार है।
  • एडिसन साल 1879 से 1900 तक ही अपनी सारे प्रमुख आविष्कार कर चुके थे और वह एक वैज्ञानिक के साथ-साथ एक अमीर व्यापारी भी बन चुके थे।
  • बिजली के बल्ब के आविष्कार करने में उन्हें बहुत मेहनत करनी पड़ी थी . और एडिसन बल्ब बनाने में 10 हजार से अधिक बार असफल हुए. जिसपर एडिसन कहा ‘मैं कभी नाकाम नहीं हुआ बल्कि मैंने 10,000 ऐसे रास्ते निकाले लिए जो मेरे काम नहीं आ सके’।

आज आपने क्या सीखा

उम्मीद है यह Artical आपको बहुत पसंद आया होगा इस आर्टिकल में हमने आपको वह सारी जानकारी देने का प्रयास किया जिससे आपको बहुत सारी नॉलेज मिल सके इस आर्टिकल में हमने बल्ब क्या है,

बिजली के बल्ब का आविष्कार किसने किया था, बल्ब का आविष्कार एवं एडिसन के जीवन की रोचक बातें को कवर किया और आपके लिए एक साधारण इंफॉर्मेशन आर्टिकल के रूप में प्रस्तुत किया अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगे तो आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं जिससे उन्हें भी एडिसन बारे में बहुत कुछ नॉलेज मिल सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button