Panchaang Puraan

Budh Rashi Parivartan 2021: From December 29 the grace of Mercury will be on these zodiac signs Budh Gochar Effect – Astrology in Hindi

मंगल ग्रह नवमी 28 पौन 2021 दिन की सुबह 8:30 बजे से 5 मार्च 2022 दिन की सुबह 10:10 बजे मकर राशि में।
इस ग्रह 13 मौसम मकर राशि मे वक्री होते हैं। 3 फरवरी को मकर राशि में मार्गी और 5 मार्च 2022 दिन में 10:10 बजे तक मकर राशि में होगा।

प्रतिकूल प्रभाव कारक ग्रह, बुद्धि, विवेक, विचार, के कारक ग्रह। बुध ग्रह वृष राशि के स्वामी हैं। वृष लग्न में राजयोग कारक होता है। मीन राशि में धातु को प्राप्त करें।

भारत पर प्रभाव :-स्वतंत्र भारत की कुंडली वृष लग्न और कर्क राशि है। ऐसे में धन, कुटुंब और विवेक के कारक शुभ अंक होते हैं। व्यापार, उद्योग, उद्यमशीलता, धन वृद्धि के लिए यह गोचरीय परिवर्तन है। जन मानस के लिए अनुपयुक्त है। राष्ट्र की जनता सुख की सोच।

बौद्धिक क्षेत्र से लोगों को लाभ होगा। व्यावसायिक संबंध स्थापित करना शुभशुकामनाएं। वर्क्स के लिए फिक्स समय के लिए। बाय जन मानस को नई सौगात ज्ञानी। दृष्टि से भी अनुपयुक्त है। . बड़े स्तर के किसी भी समय की पढ़ने की अवधि। वैश्विक, बौद्धिक रूप से नियामक और अंतरराज्यीय स्तर पर। सभी राशियों पर प्रभाव प्रभाव

मीन :- परक्रम और रोग के कारक अष्टम भाव में।
*परिश्रम में रुकावट कम
* भाई बन्धु को तनाव
*अचानक स्वास्थ्य कार्य में रुकावट
*परक्रम में वृद्धि,
*सीने की आबादी
*माता की स्वस्थता में कमी ज्ञान
:- बृहस्पतिवार के दिन गॉव रोह को हलवे ।

वृष :- धनेश और पंचमेश भाग्य भाव में।
* परक्रम में वृद्धि, भाग्य में वृद्धि
*बौधिकता, बौधिक क्षमता में वृद्धि
*पिता के सलाहकार, सहायता करने वालों की वृद्धि
*धनगमन की नई उपयोगिता
*घर, परिवार में नया ज्ञान
*ताल-अध्यापन में रुचि,
उपाय :- रत्ना रत्न निर्माण शुभफलभवन।

साल 2022 की ये 6 लकी राशियां, देखें मूवी क्या शामिल है आपकी राशि?

मिनट :- स्वाद और अष्टम भाव में।
*मनोबल और स्वास्थ्य तनाव
*धनगम के नए आसर बनेंगे
*व्यावसायिक से हानिकारक लोगों को लाभ
*पारिवारिक वृद्धि की स्थिति स्थिरीकरण
*घर ,वाहन और सुख पर खर्च
*माता के स्वास्थ्य को चिंताएं
उपाय :- परागण

कर्क :-ेश और परक्रमेश सप्तम भाव में।
*साझेरी को सामान्य तनाव ज्ञान
*व्यापारिक आयु वृद्धि गणना
*दाम्पत्य और प्रेम संबंध में तनाव या तनाव
*सामाजिक पद प्रतिष्ठा में वृद्धि
*मानसिक चिंता में वृद्धि हो सकती है
*कलात्मक प्रकृति और रुचि में वृद्धि
उपाय : – हरा मूंग या उड़द गाय को खिलाते रहे या मंदिर में दान करते रहे।

सिंह :- आयश- धनेश षष्ठ भाव में।
*अचानक यात्रा खर्च में वृद्धि
*आतंकवादी शत्रुओं से संपर्क
*आय और धनागम के लिए I
*व्यावसायिक, व्यापार से खतरनाक लोगों को तनाव
*परिवार तनाव और खर्च वृद्धि
*स्किन गणित की समस्या में वृद्धि
उपाय :- गणेश जी की आराधना शानदार।

कन्या :- राज्य और कार्यकारी पंचम भाव में।
*तालिया अध्यापन से हानिकारक
*बौद्धिक क्षमता में वृद्धि
*मनोबल, नेतृत्व क्षमता वृद्धि में वृद्धि
*आय और गुणा वृद्धि
*संतान और पिता के तूफान से
*बौधिकता कार्य क्षमता के बल पर सम्मान वृद्धि
उपाय : – रत्नातीर्ण उत्खनन होता है।

30 साल बाद शनि कुंभ राशि में प्रवेश करें, मीन, कर्क और वृश्चिक राशि वाला राशि

तुम : – नियति और व्यय देश मौसम में।
*सुख और सुख में वृद्धि
*माता के सुख सानिधान में वृद्धि
*जमीन जायदाद और अचल संपत्ति को खर्च
*दृष्टिकोण, कार्य कुशलता में वृद्धि
*कलात्मक क्षमता में वृद्धि
*नंबर के लिए समय
उपाय :- श्री गणेश जी को दूर्वापते गुरुवार को।

वृश्चिक:- अष्टमेश और आयश परक्रम भाव में।
*परक्रम सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि
*कार्यो में भाग्य के साथ
*व्यापार्क कार्य में वृद्धि
* भाई परिवार के सदस्यों के समर्थन में वृद्धि
*अचानक स्वास्थ्य में तनाव को रोकना
*पिता के स्वास्थ्य को चिंता
उपाय :- बृहस्पतिवार के दिन श्री गणेश जी को दूर्वातेपते।

धनु :- सप्तमेश और राज्य मौसम में।
*धनगम के लिए वृद्धि
*व्यावसायिक से हानिकारक लोगों को लाभ
*प्रेम और दाम्पत्य जीवन मे मधुरता
*पारिवारिक वृद्धि, परिवार में नई कार्यशक्ति
*पेत वैश्वानिकी में वृद्धि
*नई साझेदारी से अर्थव्यवस्था की भावना
उपाय:– भोलेनाथ को बेलेपटापते हैं।

मकर :- रोग और नियति नियत भाव में।
*मानसिक विरोधी और चिन्ता में वृद्धि
*मनोबल, पर्सनैलिटी और भाग्य में वृद्धि
*प्रेम और जीवन साथी के सुख में वृद्धि
*नकारात्मक व्यवसाय में वृद्धि
*आण्विक रोग और शत्रुओं में वृद्धि संभावित
*कलिस्टिक प्राकृतिक एवं प्रकृति में वृद्धि
उपाय :- गुरुवार को वस्त्र धारण करना।

कुम्भ :- पंचमेश और अष्टमेश भोजन भाव में।
*अचानक विदेशी या स्वदेश खर्च में वृद्धि
*आन्तिक शत्रुओं से असंदिग्ध
*संतान के लिए
*स्थल, व्यापार से खतरनाक लोगों को तनाव
*परिवार तनाव और खर्च वृद्धि
*स्किन गणित की समस्या में वृद्धि
* नीति निर्धारण
उपाय :- मूल कुमर्स के लिए उपाय करें।

2022 में शनि गोचर से इन राशियों के प्रक्षेपित उज्ज्वल दिन, बनेंगे एट काम

मीन :- सुखेश और सप्तमेश स्वाद में।
*तालिया अध्यापन से हानिकारक
*बौधिक क्षमता में वृद्धि
*प्रेम संबंध और दाम्पत्य सुख में वृद्धि और लाभ
*आय और गुणा वृद्धि
*संतान के स्वास्थ्य की स्थिति
*बौद्धिकता कार्य क्षमता के बल पर सम्मान वृद्धि
*नियत से लाभ में वृद्धि हुई
उपाय:– गलत प्यार और प्यार को गलत फहमी नें।

.

Related Articles

Back to top button