India

Brics Foreign Ministers Meeting We’ve Come Long Way From The First Time Our Foreign Ministers Met In New York In 2006 | ब्रिक्स देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में बोले जयशंकर- हमने काफी दूरी तय की, चीन ने कहा

बैठक के दौरान संचार के दौरान संचार के संबंध में विदेश मंत्री विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि भारत ने ब्रिक्स की 15वीं जयंती पर मनाया। वे कहते हैं- “2006 में जर्नल पत्रकार की बैठक से हम रिपोर्ट करते हैं। हमारे समूह के मार्गदर्शक सिद्धांत तीन साल से बने हैं।”

जयशंकर ने कहा है कि हम संचार, अधिकार, संचार, अधिकार, गुण, गुण, गुण, गुण, गुण, गुण, गुण, गुण हैं, जो सभी के लिए आदर्श हैं।

ब्रिक्स की बैठक में भाग लेने वाले सभी बाह्य संचार (ब्राजील, भारत, चीन और दक्षिण अफ़्रीका) ने बैठक के बाद के समुच्चय ‘नेशन्ते’। इस चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने मीटिंग में कहा- कोविड-19 की लहर के शिकार के शिकार भारत के साथ संक्रमित हैं। इस समस्या के साथ बैठक के लिए भारत और सभी ब्रिक्स के साथ।

वैंग ने आगे कहा कि जहां तक ​​भारत की स्थिति में है तो चीन के सभी प्रकार के ब्रिक्स उपयुक्त स्थिति में भी मदद करते हैं और साथ ही साथ जोड़ा जाता है।

बैठक की बैठक की बैठक के लिए चीन ने ऐसा ही कहा कि साझा चिंताओं के समूह के सदस्यों के साथ संवाद का विषय-संबंध, एक ऐसी स्थिति में समाचार- आशान्वित होने के लिए।

चीन के संचार के लिए संचार के लिए तैयार संचार वांगवेन ने बाहरी वायु संचार, भारत, चीन दक्षिण अफ्रीका (ब्री में) के लिए संचार की डिजिटल मीटिंग की घोषणा की। -19 के बाद आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण संकेतक।

ये भी आगे: गलवान हमला अपनी: चीन के हमले की स्थिति पर हमला करने की स्थिति में, अहीरवादी हमले की स्थिति में,

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button