Education

ब्लड बैंक किसे कहते हैं? | Blood Bank kise kaha jaata hai?

What is a blood bank called? | blood bank kise kahate hain in hindi

दोस्तों, आपने काफी बार “blood bank” शब्द के बारे में सुना होगा, कि बहुत सारे लोग जब रक्तदान करते हैं तब उनके रक्त को संभाल कर “ब्लड बैंक” में रखा जाता है। आवश्यकता पड़ने पर लोगों को यही रक्त सीधे तौर पर उपलब्ध करवाया जाता है, ताकि आपातकालीन परिस्थिति में लोगों की जानें बचाई जा सके। लेकिन ब्लड बैंक की परिभाषा इससे कुछ अलग होती है।

यदि आप भी यह जानना चाहते हैं कि Blood Bank kise kaha jaata hai? तो इसके मूल रूप से दो प्रश्न बन सकते हैं कि, Blood Bank kise kaha jaata hai, और मानव शरीर में ब्लड बैंक किसे कहते हैं? यह दो अलग-अलग प्रश्न हैं, जिनके अलग उत्तर होते हैं। इन दोनों के बारे में आज के लेख में हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। तो चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं कि ब्लड बैंक किसे कहते हैं।

ब्लड बैंक किसे कहते हैं? | Blood Bank kise kaha jaata hai?

आपातकालीन परिस्थिति में रक्त संबंधी आवश्यकताओं की पूर्ति करने हेतु जब किसी एक मुख्य स्थान से रक्त की आपूर्ति की जाए तो वह स्थान ब्लड बैंक कहलाता है। ब्लड बैंक एक ऐसा स्थान होता है जहां पर मूल रूप से काफी सारा ब्लड अलग अलग पत्रों में एकत्रित होता है, जो आवश्यकतानुसार लोगों को मुहैया करवाया जाता है।

यदि ब्लड बैंक, रक्त दान किए गए लोगों के द्वारा बनाया गया है, तो यह रक्त बिना किसी अतिरिक्त पैसों के जरूरतमंद व्यक्ति तक पहुंचा दिया जाता है, और यदि ब्लड बैंक में ब्लड जमा करवाने के लिए लोग अपना रक्त बेचते हैं तो इसके लिए ब्लड की आपूर्ति करने के पश्चात लोगों से रक्त के पैसे भी लिए जाते हैं।

जब लोगों द्वारा रक्तदान किया जाता है यह रक्त बेचा जाता है तो एक मुख्य टीम जो कि रक्त एकत्रित करने के लिए उत्तरदाई होती है, वह संपूर्ण रक्त को एक ऐसे स्थान पर एकत्रित करती है जहां पर खून शरीर से निकलने के पश्चात भी खराब नहीं होता है।

सारे रक्त को वायु बंद एक ऐसे पात्र में डाला जाता है जहां पर किसी भी प्रकार से रक्त के खराब होने की संभावना नहीं रहती है, और समय रहते उस रक्त को जरूरतमंद व्यक्ति तक पहुंचाने का कार्य भी किया जाता है। इस प्रकार ब्लड बैंक काम करता है, और ऐसे स्थान को ब्लड बैंक कहा जाता है।

मानव शरीर में ब्लड बैंक किसे कहते हैं? (What is the blood bank in human body called?)

Blood Bank kise kaha jaata hai?

“प्लीहा” को मानव शरीर का रक्त बैंक या ब्लड बैंक कहा जाता है। एक ऐसी परिस्थिति जब मानव शरीर में रक्त अत्यंत तेजी से कम होने लगता है, जैसे कि दुर्घटना में शरीर से रक्त का बहाव होने लगता है तो प्लीहा शरीर में रक्त की आपूर्ति करने हेतु अपने अंदर से एकत्रित किए गए रक्त को पूरे शरीर में बाहर भेजता है, जिसके पश्चात एक निश्चित समय तक शरीर में रक्त की कमी नहीं होती, और शरीर की सारी कार्यप्रणाली नियमित तौर पर चलती रहती है। जब रक्त स्राव का इलाज कर दिया जाता है इसके पश्चात मानव शरीर में रक्त भेजना बंद कर देता है, और वापस समय अनुसार रक्त को एकत्रित कर लेता है।

इसके बाद कोई भी व्यक्ति अपनी किसी आपातकालीन परिस्थिति में प्लीहा से अपने शरीर में रक्त का बहाव कर सकता है। हालांकि यह मानव अपने आप नहीं कर सकता है। प्लीहा शरीर की परिस्थिति देखकर और रक्त का बहाव और रक्त की आवश्यकता के अनुसार शरीर में रक्त का बहाव करती है।

प्लीहा कहा होता है?

प्लीहा हमारे पेट के ऊपरी भाग पर स्थित होता है और सभी कशेरुकाओं में पाए जाने वाला यह एक मुख्य अंग होता है, जो मूल रूप से रक्त को फिल्टर करने का काम भी करता है। प्लीहा को हिंदी में “तिल्ली” कहा जाता है। “तिल्ली” शब्द मूल रूप से प्राचीन ग्रीक भाषा से लिया गया है।

पेट के ऊपर के बाई और के भाग में उपस्थित एक अंग होता है। प्लीहा का आकार शरीर के आकार के अनुसार बड़ा या छोटा होता है, लेकिन एक तरीके से यह थी कि आकार का होता है, और इसका रंग बैंगनी रंग का होता है। यह आमतौर पर 4 इंच लंबा होता है, लेकिन कभी-कभी यह शरीर की आकृति को देखते हुए बड़ा या छोटा हो सकता है। एक 6 फीट लंबे व्यक्ति के शरीर में 4।3 इंच का प्लीहा होता है।

एक तरीके से प्लीहा शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली के तौर पर भी काम करता है, और इंस्टेंट फिल्टर रूप में प्लीहा हमारे शरीर में काम करता है, और हमारे रक्त का पुनः नवीनीकरण करता है।

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया है कि पर एक ऐसा स्थान जहां रक्त एकत्रित किया जाता है, आवश्यकता पड़ने वहां से शरीर में रक्त की आपूर्ति करने के लिए रक्त उपलब्ध करवाया जाए तो उस स्थान को ब्लड बैंक कहा जाता है। उसी प्रकार मानव शरीर का ब्लड बैंक प्लीहा को कहा जाता है। अब आप जान चुके होंगे कि हमारे शरीर का ब्लड बैंक किसे कहा जाता है।

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको बताया है कि Blood Bank kise kaha jaata hai. इसी के साथ हमने आपको प्लीहा के बारे में सारी जानकारी दी है। हम आशा करते हैं कि आज का यह लेख आपके लिए काफी मददगार रहा होगा। यदि आप कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं।

FAQ

मानव शरीर में कितने ब्लड बैंक होते हैं?

वयस्क के शरीर में लगभग 1.2-1.5 गैलन (या 10 यूनिट) रक्त होगा।

भारत में कितने ब्लड बैंक हैं?

वर्तमान में, भारत में 2,760 ब्लड बैंक हैं, जिनमें से 1,131 ब्लड बैंक NACO, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) द्वारा समर्थित हैं।

ब्लड बैंक क्यों बनाया जाता है?

अस्पताल में ब्लड बैंक स्थापित करने का उद्देश्य मरीज को रक्त की जरूरत पड़ने पर रक्त की आपूर्ति करना है। हर इंसान का खून एक जैसा नहीं होता। रक्त को चार वर्गों में बांटा गया है। इस रक्त विभाजन के आधार पर प्रत्येक व्यक्ति को एक अलग रक्त समूह दिया जाता है।

ब्लड बैंकिंग के जनक कौन है?

Charles Richard Drew

Related Articles

Back to top button