India

Black Fungus: Mucormycosis Declared Pandemic In These States, Know How Many Cases Found In States

नई दिल्ली: प्रदूषण की वजह से खराब होने वाला भारत अब कीटाणु लागू हो रहा है। अन्य लोगों को भी ऐसे ही रखने हैं I आज तक, गुजरात, यूपी और पंजाब ने इसकी घोषणा की।

राज्य

वैट फंगस के वैब गुर्जर में. 2281 फ़ंग्स की मौसम में. महाराष्ट्र में 2000 की स्थिति में, मध्य प्रदेश में 720, 700, कर्नाटक में 500, दिल्ली में 197, यूपी में 124, हरियाणा में 250, बिहार में 56 और बिहार में मामले से संबंधित हैं। आज के बाद के बब्ज़ में एक ही बार में व्यवहार करता है 32 एक महिला की ‘ब्लैक फंगस’ हत्या हो जाती है।

इन दिनों घोषित किया गया

कोरोना के स्वास्थ्य में मौसम, मध्य प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, पंजाब, पंजाब, गुजरात, राजस्थान, बिहार, चेन्नई, उत्तराखंड, तेलांगना में 14 मौसम रोग में रोग होता है। घोषित किया गया है।

महामारी ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

आपको बता दें कि जो राज्य किसी बीमारी को महामारी घोषित कर देते हैं फिर उन्हें केस, इलाज, दवा और बीमारी से होने वाली मौत का हिसाब रखना होता है। मामलों मामलों एंटिला सरकार और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् क्लीनिंग क्लीन्ज़र क्लीनिंग है।

गांधी ने गांधी से की ये अपील

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देश में ब्लैक फंगस के मामलों में बढ़ोतरी और जरूरी दवा की कथित कमी को लेकर चिंता प्रकट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आग्रह किया कि इस बीमारी के मरीजों को राहत प्रदान करने के लिए तत्काल जरूरी कदम उठाए जाएं।

मेडीड को लिखे गए पत्र में यह लिखा हुआ था कि यह घोषणा की गई थी। गांधी ने कहा, ”महाराष्ट्रबंधन को अनिवार्य रूप से घोषित किया गया है।” सामाजिक कार्यकर्ता की रक्षा करना और सामाजिक सुरक्षा की रक्षा करना।”””’.””’

इस बात की सूचना दी गई, ”एटाटाटेरेरीसीन-बी इस बीमारी के उपचार के लिए दवा है। मीडिया रिपोर्ट्स समाचारों में इस पत्रिका में इस तरह की खबरें आती हैं। ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ ,

केंद्र ने दवा के लिए 5 और खरीदारी की है

रोग के विकास के लिए उपयुक्त होने की वजह से यह रोगग्रस्त होने वाली बीमारियों से प्रभावित होने वाली बीमारियों से प्रभावित होने वाली बीमारियों से प्रभावित होने वाली बीमारियों से प्रभावित होती है। दवा की 1,11,000 शर्बतें शुरू करें।

केंद्र ने रोग विज्ञान के शोध प्रबंध के लिए स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का समाधान किया।

खतरनाक स्थिति में आने वाले समय में बीमार होने के कारण बीमार होने पर भी बीमार पड़ सकते हैं।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button