Education

बिहार की चौहद्दी क्या है? | Bihar ki chauhaddi kya hai

बिहार राज्य कब बना था? | bihar rajya kab bana tha

Bihar ki chauhaddi kya hai- दोस्तों बिहार राज्य अपने सांस्कृतिक रूप से और भौगोलिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण है। भारत का एक महान राज्य होने के कारण हमें बिहार के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां होना आवश्यक है।

जैसे कि बिहार कब बना था, बिहार कहां स्थित है, बिहार राज्य की राजधानी क्या है, बिहार राज्य का भारत देश में क्या योगदान है, तथा Bihar ki chauhaddi kya hai. इसी प्रकार के कुछ सवालों के जवाब हमें निश्चित रूप से पता होना चाहिए।

यदि आपको इन सवालों के जवाब नहीं पता है, तो कोई बात नहीं। क्योंकि आज के लेख में हम आपको बिहार से संबंधित इन सभी सवालों के जवाब देते हुए बताएंगे कि Bihar ki chauhaddi kya hai. तो चलिए शुरू करते हैं

बिहार राज्य कब बना था? | bihar rajya kab bana tha

दोस्तों, आज से तकरीबन 110 साल पहले सन 1912 में बंगाल राज्य से यानी कि बंगाल प्रेसिडेंसी से अलग होकर बिहार एक अलग राज्य बना था। बिहार एक ऐसा राज्य था, जिसमें लोकतंत्र की शुरुआत भारत में सबसे पहले हुई थी। हालांकि लोग पढ़ने लिखने के रिवाज में शामिल तक नहीं थे।

उस समय पूरे विश्व की सबसे बेहतरीन शिक्षा केंद्र नालंदा विश्व विद्यालय बिहार राज्य में ही स्थित था। सन 1935 में बिहार राज्य से अलग होकर ओडीशा बना था, और सन 2000 में बिहार का प्रथम विभाजन हुआ और झारखंड का जन्म हुआ।

बिहार राज्य कहां स्थित है? | bihar rajya kaha sthit hai

दोस्तों बिहार राज्य भारत के पूर्वोत्तर भाग में स्थित है। बिहार राज्य के यदि हम देशांतर तथा अक्षांश रेखा के बारे में आपको बताएं तो बिहार की अक्षांश और देशांतर रेखा 25।0961° उत्तर की ओर तथा 85।3131° पूर्व की ओर दिखाई देती है। यह रेखाएं जा आपस में काटती है वहीं पर बिहार राज्य स्थित है।

बिहार की राजधानी क्या है? | bihar ki rajdhani kya hai

बिहार का क्या महत्व है? | bihar ka mahatva kya hai

बिहार राज्य की राजधानी पटना है, पूरे बिहार को प्राचीन समय में मगध के रूप में जाना जाता था। यह राज्य अपनी शक्ति के लिए प्रसिद्द था। महाभारत में जरासंध जो ज़ुरा राक्षसी के पुत्र थे, वे भी मगध सम्राट थे, और पूरे मगध पर राज करते थे। उस समय भी मगध की राजधानी पाटलिपुत्र थी। और मगध को आज के समय बिहार के नाम से जाना जाता है, और पाटलिपुत्र को पटना के नाम से जाना जाता है।

पटना बिहार्र की राजधानी प्राचीन समय से है।

बिहार राज्य में कुल कितने जिले हैं? | bihar me kul kitne jile hai

बिहार राज्य में कुल 38 जिले हैं, और इन 38 जिलों के नाम कुछ इस प्रकार है- अररिया, अरवल, औरंगाबाद, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, बक्सर, दरभंगा, गया, गोपालगंज, जहानाबाद, जमुई, कैमूर, कटिहार, खगरिया, किशनगंज, लखीसराय, मधेपुरा, मधुबनी, मुंगेर, मुजफ्फरपुर, नालंदा, नवादा, पश्चिम चंपारण, पटना, पूर्व चंपारण, पूर्णिया, रोहतास, सहरसा, समस्तीपुर, सरन, शेखपुरा, शिवहर, सीतामढ़ी, सिवान, सुपौल, वैशाली, यह सभी बिहार के 38 जिले हैं।

चौहद्दी क्या होती है? | chauhaddi kya hota hai

चौहद्दी शब्द एक बनावटी शब्द है, जिसका मतलब होता है चार हद। इसका मतलब होता है कि किसी भी जगह की चारों ओर की सीमा को चौहदी कहा जाता है। यदि कोई देश, राज्य, शहर, अपने चारों ओर की सीमा के बारे में बताता है, तो इसका अर्थ यह है कि वह राज्य अपनी चौहद्दी के बारे में बताता है।।

बिहार की चौहद्दी क्या है? | Bihar ki chauhaddi kya hai?

बिहार की चौहद्दी कुछ इस प्रकार है कि बिहार के उत्तर में नेपाल स्थित है। बिहार के पूर्व में पश्चिम बंगाल स्थित है। बिहार के उत्तर में उत्तर प्रदेश स्थित है, तथा बिहार के दक्षिण में झारखंड स्थित है। यह बिहार की चौहद्दी है। अर्थात बिहार नेपाल, पश्चिम, बंगाल, उत्तर प्रदेश, और झारखंड से पूर्व पश्चिम उत्तर दक्षिण इन चारों दिशाओं से घिरा हुआ है।

बिहार का क्या महत्व है? | bihar ka mahatva kya hai

दोस्तों, बिहार राजनैतिक, दार्शनिक, सांस्कृतिक, और भौगोलिक रूप से भारत का अभिन्न राज्य है। यह भारत में अपना एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। यह क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का 12वां सबसे बड़ा राज्य है, और जनसंख्या वृद्धि के अनुसार यह भारत का तीसरा सबसे बड़ा पापुलेटेड स्टेट है।

बिहार एक ऐतिहासिक राज्य है जिसकी राजधानी पटना है। पटना प्राचीन समय से ही बिहार्की राजधानी रहा है। बिहार में ज्यादातर जमीन गंगा नदी के द्वारा सिंची जाती है, तथा पूरी जमीन उपजाऊ जमीन और मैदानों पर बसी हुई है।

बिहार के तकरीबन 89% लोग इसके गांव में रहते हैं, केवल 11।3% लोग नगरों में बसते हैं। इस राज्य के 58% लोग 25 वर्ष से कम आयु के है। बिहार प्राचीन काल से ही भारत के शिक्षा का केंद्र है, और बिहार की संस्कृति बिहार को तथा भारत को नई दिशा देने का काम करती है। बिहार मूल रूप से बोध सन्यासियों के ठहरने का स्थान होता था।

बौध्द सन्यासियों के ठहरने के स्थान को विहार नाम से पुकारा जाता है, इसलिए इसे अपभ्रंश बिहार का के नाम से पुकारा जाता है। सन 1948 में महात्मा गांधी के अस्थियां जिन 12 स्थलों पर विसर्जित की गई थी उनमें से त्रिमोहिनी संगम बिहार में स्थित है।

निष्कर्ष

दोस्तों आज क लेख में हमने आपको बिहार राज्य के बारे में लगभग सभी जानकारी प्रदान करते हुए बताया है कि बिहार राज्य कब बना था, ये कहां स्थित है, इस में कुल कितने जिले हैं, तथा Bihar ki chauhaddi kya hai.

हम आशा करते हैं कि आज का यह लेख पढ़ने के पश्चात आपको बिहार राज्य के बारे में अन्य किसी भी लेख को पढ़ने की आवश्यकता नहीं होगी।

हम उम्मीद करते हैं आपको ये जानकारी पसंद आयी होगी। यदि पसंद आयु हो तो कृपया इस लेख को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। यदि आपके मन में कोई  सवाल है जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

FAQ

Related Articles

Back to top button