States

bihar cm nitish kumar said do not take incomplete name aku of aryabhatta knowledge university – सीएम नीतीश ने कहा- आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय का अधूरा नाम न लें, शिक्षा मंत्री बोले

आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक विधानसभा में पारित होने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि देश में जिस दौर में यह चर्चा चल रही थी कि एक नॉलेज यूनिवर्सिटी बने, तब हमने इसे बिहार में बनाने का फैसला किया। गणित ने कहा कि यह भी वैसा ही होगा जैसा कि आर्याभट से वृहद् गणित में हो सकता है। ज्ञान का विश्व में परिवर्तन होता है। मेल्ट ने कहा कि आर्यभट ज्ञान विश्वविद्यालय के नाम को कोई शार्ट नहीं है। संक्षिप्त में संक्षिप्त विवरण एक यू कहक किस तरह की नई किताब आर्यभट्ट के बारे में जानेंगे। इस पर विजय चौधरी ने कहा कि मीडिया जी की भावना से विभाग के लोगों को भी अवगत कराया गया है। पहली बार यह भी कहा गया था।

एंव कार्य संशोधित संशोधित संशोधन ने आर्यभट ज्ञान संशोधन पेश किया और ज्ञान के क्षेत्र में ज्ञान के हिसाब से पढ़ा। यह कहा गया है कि यह व्यवस्थित से व्यवस्थित है। चिकित्सा और विदर्भ के कॉलेज अब अलग-अलग हो सकते हैं। वर्ष 2008 में संशोधित किया गया।

उस ने उस की स्थापना की थी, जिसके बाद उसे ठीक किया गया था। यह नाम से ही निर्धारित है। विज्ञान विज्ञान, विज्ञान, विज्ञान, विज्ञान, विज्ञान, विज्ञान, कला-संस्कृति, सेल से वैज्ञानिक विज्ञान की वैज्ञानिक स्तर की परीक्षा और विज्ञान।

खेल के क्षेत्र में राज्य सरकार का लक्ष्य

कला संस्कृति मंत्री डॉ. आलोक रंजित ने बिहार विश्वविद्यालय में प्लेसमेंट में पेश किया। यह कहा जाएगा कि बिहार को बदलने वाला राज्य होगा. पूर्व राजस्थान, पंजाब, तामिनाड, आसाम और गुजराती खेल है। इस खेल के क्षेत्र में स्थिति निर्धारण राज्य सरकार का है। राज्य में खेल की सेटिंग से शब्द विज्ञान में खेल, प्रशिक्षण, शारीरिक क्रिया शब्द में दिखाई देगा। यह कहा कि राजगीर में खेल का जैसा होगा। लाइव कार्य शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा कि यह हमेशा के लिए गलत है और यह लाइव अपडेट है, जैसा कि विश्व में खेलने के लिए अपडेट किया जाता है।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button