Sports

Big Disclosure Of Shardul Thakur James Anderson Abused Jasprit Bumrah | शार्दुल ठाकुर का बड़ा खुलासा

India vs England Test Series: भारत और इंग्लैंड के बीच हाल ही में खत्म हुई टेस्ट सीरीज में गेंद और बल्ले के बीच जंग के अलावा खिलाड़ियों के बीच भी ज़ुबानी जंग देखने को मिली थी. दोनों टीमों के खिलाड़ियों ने एक दूसरे पर जमकर स्लेजिंग की थी. खिलाड़ियों के बीच यह टकरार सबसे ज्यादा लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान हुई थी. इसी मैच इंग्लिश तेज़ गेंदबाज़ जेम्स एंडरसन और भारतीय तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह के बीच तीखी नोंकझोंक हुई थी. इन दोनों के बीच असल में क्या बात हुई थी, भारतीय टीम के ऑलराउंडर शार्दुल ठाकुर ने इसका खुलासा किया है.

एंडरसन ने बुमराह को दी थी गाली- शार्दुल 

शार्दुल ठाकुर ने अंग्रेज़ी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, “हम जेम्स एंडरसन पर अटैक करने की कोशिश कर रहे थे. ऐसा कुछ जो लॉर्ड्स टेस्ट के दौरान हुआ और ओवल टेस्ट तक चला. मुझे बाद में बताया गया कि एंडरसन ने बुमराह से कुछ ऐसा कहा था, जो उन्हें नहीं कहना चाहिए था. मुझे बताया गया कि उन्होंने बुमराह को गाली दी थी.”

बता दें कि इस सीरीज़ में इंग्लिश गेंदबाजों ने भारतीय टेलेंडर्स के खिलाफ जमकर बाउंसर गेंदबाजी की थी. भारतीय गेंदबाजों ने भी इंग्लैंड के निचले क्रम के बल्लेबाज़ों, खासकर एंडरसन को इसका करारा जवाब दिया था. शार्दुल ने आगे कहा कि भारतीय टेलेंडर्स को अक्सर इस तरह की गेंदों के साथ निशाना बनाया जाता है और इसलिए उनके लिए प्रतिद्वंद्वी टीमों के निचले क्रम के बल्लेबाजों को भी उसी रणनीति से निशाना बनाना उचित है.

शार्दुल ने कहा, “जब हम विदेशों में जाते हैं तो हमारे टेलेंडर्स को भी बाउंसर का सामना करना पड़ता है. ऑस्ट्रेलिया में, नटराजन को मिशेल स्टार्क और पैट कमिंस द्वारा बाउंसर फेंके गए थे, जबकि उन्हें पता था कि इस व्यक्ति ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में भी ज्यादा बल्लेबाजी नहीं की है.”

उन्होंने आगे कहा कि जब विरोधी टीम के टैलेंडर्स बल्लेबाजी करने के लिए आते हैं तो हम उन्हें क्यों बाउंसर नहीं फेंक सकते हैं? हम क्यों नहीं बॉडीलाइन गेंदबाजी करें? हम किसी को खुश करने के लिए नहीं खेल रहे हैं. हम भी विदेश में जीतने के लिए जाते हैं.

2-1 से आगे था भारत और फिर रद्द हो गया अंतिम टेस्ट

बता दें कि भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ का पहला टेस्ट ड्रॉ रहा था, और फिर दूसरे टेस्ट में भारत ने जीत दर्ज की थी. इसके बाद तीसरा टेस्ट इंग्लैंड ने जीता था और फिर चौथे टेस्ट में टीम इंडिया की जीत मिली थी. इस तरह भारत अंतिम टेस्ट से पहले तक सीरीज़ में 2-1 से आगे था. इसके बाद टीम इंडिया के हेड कोच, बॉलिंग कोच, फील्डिंग कोच और फिजियो कोरोना संक्रमित हो गए थे. इस कारण सीरीज़ का अंतिम टेस्ट रद्द करना पड़ा था. फिलहाल सीरीज़ का नतीजा नहीं निकला है.

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button