States

रेफरल अस्पताल बना 'भूत बंगला', पूर्व मुख्यमंत्री ने सालों पहले किया था उद्घाटन, अब हर तरफ फैला है कबाड़

<पी शैली="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">मधुबनी: चित्र में वाउ गौर । बिहार के अंधराठा जिले के अंधराठा इलाके में उत्द्घन्थन मिठाई ने मिठाइयां उत्पन्न कीं। देखकर ???? मन में एक बार ये सवाल मिले कि किस तरह की स्थिति में भी किसी भी तरह के मौसम में नजर नहीं आए।"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">बाइटराठा बैठने की समस्या के बाद भी ऐसा ही किया गया था। लेकिन मौजूदा समय में ये रेफरल अस्पताल खंडहर में तब्दील हो चुका है। हर प्रोजेक्ट का दायीं तरफ है। परिसर में घुसा हुआ है। वातावरण में रहने और कबाड़। बिस्तर और जैसे-तैसे बैठकें. 

पीचचर्चा में चलने वाला अभियान चल रहा है

पसंद नहीं है कि ये पूरीतया बंद है। इस अस्पताल को अंधराठाढ़ी पीएचसी में शिफ्ट कर दिया गया है, जहां आज भी तीन एमबीबीएस और तीन आयुष चिकित्सक मौजूद हैं। समय-समय पर व्यवहार का समाधान है. सभी के लिए और ???????????????????????????? . 

स्थिर अवस्था में. सवाल है कि अस्पताल के अंदर पड़े हुए करोड़ों के दवाइयों के नुकसान का जिम्मेवार कौन है? यह भी ठीक वैसा ही है जैसा कि वैट में भी 35-40 साल के लिए बैंनटाला कैसे बन गया। इस बात की बात ही कुछ और है।

यह भी पढ़ें –

बिहार: एमएलए संपंिवर सौरव का खाता हैक, संस्था की तस्वीरें की स्टॉक

पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">बिहारः ‘बदन’ वस वस वस वस वस वस वस वस वस वस वस मै वस वस वस मै वस वस मै वस वस वस ज् ज् ज् ज् ज् ज् ज् ज् ज् गल / >

.

Related Articles

Back to top button