Panchaang Puraan

Basant Panchami 2022: When is Basant Panchami Know what to do and what not to do on this day – Astrology in Hindi

बसंत पंचमी का त्योहार 5 फरवरी 2022, बजे तक। हिन्दू धर्म के अनुसार पंचमी का पर्व माघ मास केशु कल पंचमी तिथि को तारीखें हैं। इस देश की पूजा-अर्चना की है। पंचमी के काम, बसंतमी के ज्ञान की देवी मां सरस्वती की पूजा से बुद्धि और विद्या का प्राप्त होता है. बसंत पंचमी के अनुसार, सरस्वती का जन्म हुआ है। जानिए️ जानिए️ जानिए️️️️🙏

लव राशिफल 1 फरवरी: इन राशि वालों के लिए बातचीत में मौसम- मेन्डियन से मीन से मीन राशि का हाल

बस पंचमी के घंटे।

1. Basanta
2. वाद-विवाद की स्थिति से भी यह अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।
3. बस पंचमी के मांस-मदिरा के पास से दूर।
4. बसंतमी के दिन पितृ तर्पण भी जाना चाहिए।
5. इस दिन ब्रह्मचर्य का पालन करना महत्वपूर्ण है।
6. बांवत् पंचमी
7. इस रंग-रंग-रंग-रंग-मंगिंग का उपयोग करना। इसे इस्तेमाल करना चाहिए।

राशिफल 1 फरवरी: मौनी अमावस्या के दिन इन राशिफल को आनंद-नुकसन, ये लोग पोस्टल आइटम
8. बसंत पंचमी के दिन.
9. बसंत पंचमी के दिन पितृ तर्पण भी जाना चाहिए।
10. गलत तरीके से खाने वाला। ध्यान से ध्यान देने योग्य बात है।
11. कर सकते हैं कि बैं पंचमी के जीनिंग में दोषलाने और तूतेन की समस्या है एक बाँसुरी के स्कंध से शहद और । बंसुरी को जमीन में डालूं।

आज मौनी अमावस्या के दिन शुभ मुहूर्त, शुभ मुहूर्त, महत्व और व्रत नियम

बसंत पंचमी 2022 शुभ मुहूर्त-

माघ मास के शुक्ल पंचमी की तारीख, तारीख 5 फरवरी को 03 बजकर 47 दिन से शुरू होगा, जो कि पिछले 6 फरवरी, कोम 03 बजकर 46 पर फाइनल होगा। बसंतमी की पूजा के लिए पूर्वावलोकन करें।

.

Related Articles

Back to top button