Panchaang Puraan

Apara Ekadashi 2021 Date and Time: Shobhan Yoga is being made on the day of Apara or Achala Ekadashi know importance

एकादशी तिथि का हिन्दू धर्म में विशेष महत्व है। एकादशी तारीख विष्णु को… हिंदू पंचांग के आकार, ज्येष्ठ मास के कृष्ण की एकादशी तारीख 06 नवंबर को है। इसादी को अपरा या अचल संपत्तियां हैं। अपरा एकादशी व्रत और व्यक्ति के व्यवहार के अनुसार, मनोनीत करने के लिए ये कार्य करते हैं। अपरा एकादशी तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि तिथि दिन पहले दिन का शोभन योग 04 बजकर 35 मिनट तक। अति अतिगंड योग लगा।

शोभन योग का महत्व-

शुभ और यात्रा पर जाने के लिए शोभन उत्तम उत्तम हो गया है। मंगलमय और खुशनुमा माहौल बनाना शुरू कर रहा है।

इन 4 मतगणना मत करो, मत करो

अपरा एकादशी 2021 शुभ मुहूर्त-

दिनांक 05 जून 2021 को सुबह 04 बजकर 07 से शुरू 06 जून 2021 को 06 बजकर 19 बजे तक। अपरा एकादशी व्रत पारण शुभ मुहूर्त 07 जून 2021 कल 05 बजकर 12 से 07 बजकर 59 बजे तक।

22 नवंबर तक इन लोगों पर शुक्र देव, धन- लाभ के साथ मान- सम्मान बढ़ेगा

अपरा एकादशी पूजा विधि-

एक दिन पहले सुबह उठकर स्‍नैन के एक शुद्ध वस्‍त्र ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍त्र‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍), 24 12 24 6 6 5 3 था।
– बाद के घर में पूजा से पहले एक वेदी, धान, चना, जौ, चावल और अन्य।
– वेदी के एक कलश की स्‍थापना करें और लॉन्‍च करें।
– अब वेदी पर विष्णु की मूर्ति या तस्वीर।
-संपादक विष्‍णु को फूल, मौसम फल और तुलसी दल.
– धूप-दीप से विष्नु की आरती फिरें।
– शाम के समय विष्‍णु की आरती कीट के बाद फलाहार करें।
-रात के समय सोए ही भजन-कीर्तन और जागरण करें।
– सुबह के समय ब्राह्मण को खाने और जन्म-शक्ति दिन-दक्षिणा विदा करें।
– अपने स्वयं के विशेष व्रत का पालन करें.

संबंधित खबरें

.

Related Articles

Back to top button