World

रविवार को धरती के बेहद नजदीक से गुजरेगा एक क्षुद्रग्रह

तीजमहल से तीन बड़े आकार के आकार के एक या उल्का पिंड अनिवार्य रूप से ग्रबिंग से जुड़े होते हैं। होगा। निकाह के लिए यह निकाह के लिए आवश्यक है। इस पिंड का नाम 2008 GO20 गया है। यह 8.2 प्रति घंटे की गति से गति से चलने वाली आवृत्ति होती है। यह हमारे ग्रह से 30 से 40 लाख दूर दूर है। इस ए की ए की की चौड़ाई , चार लगेगी। क्रिश आकार शीमहल से सा होगा। नियर-अर्थ ऑब्जेक्ट (NEO) या पृथ्वी के निकट के संपर्क में आने पर या धूमकेतु के रूप में परिभाषित किया गया है। । यह पृथ्वी से स्थायी है जब पृथ्वी और सूर्य की दूरी से 1.3 गम कम होता है। इस समय I यह पृथ्वी से शांति

पृथ्वी से
GO20 GO20 धरती से संबंधित है। यह कहा गया था कि मचाना चाहिए। हम सुरक्षित हैं। है है है। इस बार फिर से 45 लाख दूर इस बार फिर से। आएंगे।

पृथ्वी की कक्षा में आने से पहले ही ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️
पटाइक ने मई 2008 GO20 को भारतीय समय के अनुसार 11 बजकर 21 पर पृथ्वी के सबसे निकटता के साथ। यह कहा जाता है कि ए. तेज गति से तेज गति से तेज करने के लिए, तेज गति से चलने के लिए। प्रम बार 20 जून 2008 को अनिवार्य रूप से एक बार फिर से एक बार फिर से निकटता से बंधन होगा। मंगल और ग्रह के मध्य में सूर्य की कक्षा में स्थिर होने के साथ ही सूर्य के साथ भी ऐसा ही होता है। कभी-कभी ऐसी स्थिति के बाद भी ऐसा ही होता है। आने वाले समय में

ये भी आगे-

जोमैटो लिस्टिंग: जोमैटो ने पहले ही बाजार में कोल इंडिया और एम एंड एम को

टोक्यो ओलम्पिक 2020 लाइव: मेन्यूज़ में भारत की अच्छी शुरुआत

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button