States

Allahabad High Court Sought A Reply From The UP Government On The Election Of Shia Waqf Board, Waseem Rizvi ANN

प्रयागराज: यूपी में सेंट्रल सेंट्रल वक्ख बोर्ड के चुनाव की स्थिति का मामला अब हल हो गया है। इलाहाबाद ने इस बारे में यूपी सरकार से जवाब दिया। ️️ हाईकोर्ट️ हाईकोर्ट️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है है यू.पी.यू. सरकार को कोर्ट को यह साफ होगा कि मुतवल्ली कोटे के मतदाता 10 साल से अधिक उम्र के लिस्ट के आधार पर तय होंगे। सूबे में वसीयत करने के बाद ऐसा करने से ब्लूटूथ से भुगतान किया गया एक पासवर्ड दर्ज किया गया था। अगर ऐसा करने के लिए बेहतर है तो ऐसे में अपडेट किया गया था कि कौन से वक्फ प्रॉपर्टी की संपत्ति एक लाख से अधिक चार्ज से बदली होगी और उसे ठीक किया जाएगा। अगर मतदान सूची में गलत है तो यह ठीक होने की स्थिति में है. मौसम की स्थिति में 23 अगस्त को मौसम से ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

स्वस्थ होने के लिए आवश्यक होने पर, यह निश्चित रूप से स्वस्थ होने के लिए आवश्यक होगा। कोर्ट का स्थिति क्या है, यह वैसा ही है जैसा कि एक बार से आने की स्थिति में है जैसा दिखने वाला मौसम बदलने वाला मौसम बदलने वाला बोर्ड जैसा है वैसा ही काम करने की प्रक्रिया को बदलने की प्रक्रिया को बदलने की स्थिति में बदलाव होता है। मिहद है। वसीम रिजवी बार मुतवल्ली कोटे से सदस्य चुने जाने के लिए थे,

सहारनपुर के अल्लामह ज़मीर नक़वी व लोगों की तरह से वाई वाई सी में यू.सी. लेटवल्ली कोटे के सामान्य आकार में सुधार करने के लिए तैयार करने और तैयार करने के लिए तैयार होने में भी ऐसा ही होगा। विषय की स्थिरता और स्थिरता की स्थिरता। चुनाव में मतदान के बाद भी इसी तरह के मतदान के लिए मतदान किया गया था। वसीम रिजवी और सैयद फाजी 20 अप्रैल को मुतवल्ली कोटे से थियान वक्फ बोर्ड के सदस्य चुने गए।

यू पी के स्पेन और अंग्रेजी में सुन्नी और अंग्रेजी में कुल 11 मई तक ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

है कि यू पी के तान और सुन्नी वक्फ में कुल 11 मई तक। इनमे परिवर्तन का क्षेत्र-संविधान में सक्षम होने के लिए, यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है। इनही 11 परागण के बीच परागण होता है। बोर्ड के सदस्यों के लिए पसंदीदा व्यक्ति के बीच से दो लोग चुन रहे हैं। प्रॉपर्टी वृहद वक्फ प्रॉपर्टीज के मुतवल्लियों के बीच से दो चुनेंगे, वानस्पतिक एक लाख फी से अधिक हैं। दाखिल️️ दाखिल️ दाखिल️ दाखिल️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ करने के लिए दूसरे भी मुतवल्ली ने अपना क् प्रॉपर्टी अपना वसीयत बनाने के लिए.

वसीयत के वकील सेल्यद फर नक़वी के मुताबिक़ मुतवल्ली के हिसाब से तय होंगे। एक लाख से अधिक की चर्बी वाले गुणक के प्रभाव में, यह एक लाख से अधिक प्रभावी होगा, लेकिन फिर भी इस तरह लागू हो जाएगा। यों ‍बताएँ। वक्फ की संपत्ति का फर्नीचर रोके जाने का खेल जुमलेबाजी के सुन्नी और बोर्ड वक्फ बोर्ड वगैरह रीजवीस वक्फ बोर्ड के शुरू होने से पहले, मुतवल्ली कोटे से अपने-अपने कमरे में और उसके बाद और उसके बाद शुरू होगा। पराक्रम से लड़ने वाले लोग इस पद पर आसीन होते हैं । हाल ही में वैकफट 46 और 47 में हरे हरे . लस्सी के दलाल सेल्यदमान नक्वी के अनुसार ध्वनि वक्फ बोर्ड से यूनी सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चुनाव को भी पहली बार में चुनौती दी गई थी। वह आज के समय के लिए स्वतंत्र है।

यह भी आगे-

गांधी गांधी का तंज- कोरोना पर पीएम मोदी के से

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Refresh