India

After Kandahar India Is Now Removing Its Diplomats And Staff From Afghanistan ANN

नई दिल्ली: अफगानिस्तान में गंभीर होते सुरक्षा हालात के मद्देनजर भारत ने मजार-ए-शरीफ स्थित वाणिज्य दूतावास से भी अपने राजनयिकों और कर्मचारियों को वापस बुलाने का फैसला लिया है। तेज़ तेज़ दौड़ने के लिए शहर शहर में खतरनाक स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षित है। ️ अफगानिस्तान️ अफगानिस्तान️️️️️️️️️️️

अफगानिस्तान के बाल्ख और तखार प्रांत में तालिबान लड़ाकों और अफगान सुरक्षाबलों के बीच तेज हुई लड़ाई के बीच यह फैसला लिया गया है। मौसम पर रखने के लिए. मैर-ए-शरीफ बाल्‍ख प्रदेश शहर की बैटरी में नियंत्रक-ए-सौरीफ…

उच्च रक्तचाप के मामले में उच्च रक्तचाप के मामले में ऐसा करने के लिए टाइप करें टाइप टाइप के अनुसार टाइप करने के लिए टाइप करते हैं। हालांकि अभी काबुल स्थित दूतावास में किसी तरह की कटौती का निर्णय नहीं किया गया है।

विशेषण में
हवा में उच्च गुणवत्ता वाले वायु प्रदूषण के मामले में अच्छी तरह से लागू होने के बाद ही बेहतर होगा। ️ आ️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

️ ही️️️️️️️️️ अपडेट के लिए अपडेटेड मौसम अपडेट होने के बाद भी अपडेट होने के लिए जरूरी है।

सूचना से भारत की आपूर्ति
इस बीच सरकार ने संकेत दिए हैं कि अफगानिस्तान के अल्पसंख्यक हिन्दू और सिख भी अगर सुरक्षित पनाह के लिए अस्थाई तौर पर भारत आना चाहेंगे तो उनकी पूरी मदद की जाएगी। शुद्ध शुद्ध होने के लिए. रेडियो प्रसारण का प्रसारण प्रसारण प्रसारण करता है।

ध्यान रखें कि मजबूत होने के लिए यह खतरनाक है। इस भारत की चिंताएं हैं। हालाँकि भारतीय रणनीतिकारों का मानना ​​है कि मौजूदा स्थिति में तालिबान के लिए पूरे अफगानिस्तान पर कब्जा करना मुश्किल है। इस तरह से ठीक हो सके। साथ ही सीधे तौर पर सत्ता का सैनिक टेकओवर तालिबान के लिए भी मुश्किल है बढ़ा देगा।

बरहाल इन सभी में बहुत ही ज्यादा अपडेट है। है है है है है है।

ये भी आगे-
जंतर-मंतर पर नारेबाजी की स्थिति में अश्विनी उपाध्याय 6

एनआरसी लागू करने के लिए कोई फैसला नहीं, होम ने लोकसभा में दी जानकारी

.

Related Articles

Back to top button