World

फ्लोरिडा की लापता लड़की का 14 साल बाद मां से मिलन, फेसबुक ने मुकालात को बनाया मुमकिन

<p style="text-align: justify;">फ्लोरिडा की एक लड़की 14 साल बाद अमेरिका और मेक्सिको की सीमा पर अपनी मां से मिलने में कामयाब रही. अधिकारियों ने कहा कि बच्ची छह साल की उम्र में लापता हो गई थी. बताया जाता है कि उसका अपहरण उसके पिता ने किया था.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>14 साल बाद बिछड़ी बेटी का मां से मिलन</strong></p>
<p style="text-align: justify;">जैकलीन हर्नाडेंज की 2007 से गुमशुदगी की एक पहले बन कर रह गई थी. किसी को कुछ मालूम नहीं था कि उसका ठिकाना कहां है. लेकिन उसने फेसबुक पर अपनी मां से संपर्क साधा. उसने मां को मेक्सिको में होने की जानकारी दी और उससे मिलने की अपील की. एंजेलिका ने सोशल मीडिया पर मैसेज मिलने के बाद 2 सितंबर को अधिकारियों से मुलाकात कर घटना की जानकारी दी. उसने बताया कि सोशल मीडिया पर कोई उसकी बेटी जैकलीन हर्नाडेंज होने का दावा कर रही है.</p>
<p style="text-align: justify;">उसका कहना था कि 2007 से उसने न तो इस बारे में सुना है और न ही देखा है. आरोप है कि बच्ची का अपहरण उसके पिता ने 22 दिसंबर, 2007 को किया था, और गंभीर मामले में पांच दिनों बाद वारंट जारी भी हुआ था क्योंकि अधिकारियों को दोनों के मेक्सिको चले जाने की उम्मीद थी.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>फेसबुक ने मुलाकात को बनाया संभव</strong></p>
<p style="text-align: justify;">सूचना मिलने के बाद फ्लोरिडा और टेक्सास की पुलिस ने गृह विभाग के अधिकारियों से मिलकर एक मंसूबा बनाया ताकि लड़की की मां से मुलाकात की पुष्टि हो सके. फेसबुक पर संपर्क के जरिए दोनों ने टेक्सास में लारेडो की सीमा पर मिलने की रजामंदी जाहिर की. 10 सिंतबर को अधिकारियों ने एंजेलिका और हर्नाडेंज का पता लगाकर साबित किया कि लापता बच्ची उसकी बेटी है.&nbsp;जैकलीन हर्नाडेंज की उम्र अब 27 साल की है.</p>
<p style="text-align: justify;">ओरलांडो में असिस्टेंट स्पेशल एजेंट डेविड ने कहा, "अपह्रत बच्ची की दोबारा मुलाकात एजेंसियों के संयुक्त प्रयास का नतीजा है. ये उदाहरण बताता है कि कानून को लागू करने में मजबूत साझेदारी कैसे समस्या का हल करने में कारगर हो</p>
<p style="text-align: justify;">फ्लोरिडा की एक लड़की 14 साल बाद &nbsp;अमेरिका और मेक्सिको की सीमा पर अपनी मां से मिलने में कामयाब रही. अधिकारियों ने कहा कि बच्ची छह साल की उम्र में लापता हो गई थी. बताया जाता है कि उसका अपहरण उसके पिता ने किया था. जैकलीन हर्नाडेंज की 2007 से गुमशुदगी का मामला इस महीने तक ठंडे बस्ते में था. लेकिन उसने फेसबुक पर अपनी मां से संपर्क साधा. उसने मां को मेक्सिको में होने की जानकारी दी और उससे मिलने की अपील की.</p>
<p style="text-align: justify;">एंजेलिका ने सोशल मीडिया पर मैसेज मिलने के बाद 2 सितंबर को अधिकारियों से मुलाकात कर घटना की जानकारी दी. उसने बताया कि सोशल मीडिया पर कोई उसकी बेटी जैकलीन हर्नाडेंज होने का दावा कर रही है. उसका कहना था कि 2007 से उसने न तो इस बारे में सुना है और न ही देखा है. आरोप है कि बच्ची का अपहरण उसके पिता ने 22 दिसंबर, 2007 को किया था, और गंभीर मामले में पांच दिनों बाद वारंट जारी भी हुआ था क्योंकि अधिकारियों को दोनों के मेक्सिको चले जाने की उम्मीद थी.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">फ्लोरिडा और टेक्सास की पुलिस ने गृह विभाग के अधिकारियों के साथ एक मंसूबा बनाया ताकि लड़की की मां से मुलाकात की पुष्टि कर सके. फेसबुक पर संपर्क में दोनों ने टेक्सास में लारेडो की सीमा पर मिलने की रजामंदी जाहिर की. 10 सिंतबर को अधिकारियों ने एंजेलिका और हर्नाडेंज का पीछा कर साबित किया कि लापता बच्ची उसकी बेटी है. जैकलीन हर्नाडेंज की उम्र अब 27 साल की है. ओरलांडो में असिस्टेंट स्पेशल एजेंट डेविड ने कहा, "अपह्रत बच्ची की दोबारा मुलाकात एजेंसियों के संयुक्त प्रयास का नतीजा है.</p>
<p style="text-align: justify;">ये उदाहरण बताता है कि कानून को लागू करने में मजबूत साझेदारी कैसे समस्या का हल करने में कारगर हो सकती है, मामला चाहे कितना पेचीदा हो या दूर का क्यों न हो.&nbsp;2007 से गुमशुदा जैकलीन हर्नाडेंज की जिंदगी के बारे में ज्यादा जानकारी सामने नहीं आ सकी है, और उसके पिता के ठिकानों का पता अज्ञात है. ये भी पता नहीं चल सका है कि क्या अधिकारियों को उसकी तलाश है.&nbsp;</p> .

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button