World

Afghanistan News: No Work For A Woman If A Man Can Replace Her Says Taliban | अफगानिस्तान: तालिबान ने महिलाओं का हक छीना, कहा

काबुल: रोग परी कीट का एक मंतव्य है। तालिबान सरकार दुनिया को बार बार ये भरोसा दिलाने की कोशिश कर रही है कि उसके राज में महिलाओं को नौकरी-पढ़ाई जैसी तमाम सुविधाएं पुरुषों की तरह ही मिलेगी, लेकिन हकीकत ये है कि उसकी कथनी और करनी में बहुत अंतर है। प्रेग्नेंट होने के दौरान ही अगर आप गर्भवती होते हैं, तो यह भविष्यवाणी की जाती है। 🙏

वाद की वादाखिलाफी-

  • महिला ने महिला को गर्भ धारण की अनुमति दी।
  • विश्वविद्यालय में जारी किया गया था, इसके लिए नियमावली.
  • कक्षा में रोग के निदान के लिए.
  • संपूर्ण, स्तर पर को-एजुकेशन को पूरी तरह से समाप्त हो गया।

अब डाया ने समाचार पत्र लिखा है। काबुल के काम कह ने कहा, ”सुरुवात में रंगरोगन के लिए कपड़े पहनने के लिए तैयार किया गया था और स्त्री वस्त्रों के लिए काम किया गया था।”

स्थिति के नए आदेश के अनुसार

  • महिलाओं को पुरुषों के साथ सरकारी मंत्रालयों में काम करने की अनुमति नहीं होगी।
  • महिला के लिए जर्नल में प्रवेश करने की स्थिति में है।
  • अब तक सक्रिय रहने की स्थिति में है।

स्त्रीत्व का दावा प्रक्रिया- एनआरएफ

काबुल में नगर शहर में तीन हजार कर्मचारी काम करते थे। ️ तालिबान️ तालिबान️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️🙏 NRF ने कार्यक्रम में बताया कि बैठक-लड़का-लड़का बंद करने के लिए गलत है। ️ हम️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️🙏

महिलाओं के लिए महिलाओं के दरवाजे बंद कर दिए गए। फरमान के खिलाफ़ कार्रवाई कर रहे हैं। आपदा महिला बसीरा तवाँ ने कहा, ”इस्लाम में महिलाओं को अधिक अधिकार दिए गए हैं। हमारे अधिकार क्या हैं? गर्भवती होने के लिए फिर भी आप गर्भवती हैं। अपने काम पर जाने के लिए हम कपड़े पहने हैं। बस अपना हक चाहिए।”

महिला मंत्री, वह

तालिबान राज के बाद से ही आशंका थी कि महिलाओं के प्रति उसका रवैया ठीक नहीं होगा। यहां तक ​​कि तालिबान ने जिस सरकार का गठन किया, उसमें एक भी महिला शामिल नहीं की। इस पर टाइप करने के लिए भविष्य में जाने के लिए टाइप किया गया होगा।

यह भी आगे-

मुख्यमंत्री जी गांधी जी को नहीं नहीं बख्शा, फिर क्या’ का दौरा करने वाले हिन्दू महासभा का कार्यकर्ता

पंजाब के नए मुख्यमंत्री: चन्नी पंकज के दुसरे सम्मेलन, दो खुशियों का संदेश भी आज

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button