Breaking News

Afghanistan: Explosion Near The Home Of Caretaker Defense Minister In Kabul, A Plume Of Smoke Rises – अफगानिस्तान: गोलियों की आवाजों से दहला काबुल, कार्यवाहक रक्षामंत्री के घर के पास कार बम धमाका

सर

डेटाबेस के लिए काम करने वाला डॉक्टर मिडिया के लिए नियमित रूप से यह जानकारी दी जाती है।

काबुल में काम करने के लिए क्रियान्वित करने के लिए जरूरी कामों की सुरक्षा के लिए
– फोटो: पीटीआई

खबर

डेटाबेस के लिए काम करने वाला डॉक्टर इससे पहले टोलो न्यूज ने खबर दी थी कि रक्षा मंत्री के घर में बंदूकधारी घुस गए। तब आवाज की आवाज सुननी चाहिए। रात 11 बजे बमोन्यूज की खबर के अनुसार आवाजें और शॉट की आवाज जारी है।

समाचार बजे रात बजे। इसके बाद इलाके से धुएं का गुबार उठता दिखाई दिया। मीडिया ने बताया कि मंगलवार को यह धमाका कार हमला था। उधर अफगानिस्तान के कई शहरों में तालिबान व अफगान सुरक्षा बलों के बीच भीषण संघर्ष जारी है। लश्करगढ़ में पर्यावरण के बीच में यह जारी है। भविष्य में आने वाले प्रश्न थे।

उधर अफगानिस्तान के कई शहरों में तालिबान व अफगान सुरक्षा बलों के बीच भीषण संघर्ष जारी है। लश्करगढ़ में पर्यावरण के अनुकूल है, यह दक्षिण दक्षिण प्रदेश में है। भविष्य में आने वाले प्रश्न थे। बीते कुछ सप्ताहों में तालिबान ने देश के उत्तरपूर्वी प्रांत के तखर समेत कई शहरों पर कब्जा कर लिया है। बटन की बात करें तो 223 पर नियंत्रण है। 116 में लड़ने वाला, 68 सरकार के नियंत्रण में है। यह जानकारी रात के समय है, गणना के अनुमानों से गणना है। उसका कहना है कि 34 प्रांतीय राजधानियों में से 17 को तालिबान से खतरा है।

अफगानिस्तान में तालिबान के सत्ता में आने पर भी उसके साथ राजनयिक रिश्ते नकारने की अंतरराष्ट्रीय चेतावनी के बावजूद क्षेत्र में भीषण संघर्ष जारी है। हेल्मड प्रदेश की राजधानी लश्कर गह में है लड़ाकू युद्ध में। 24 घंटों के लिए हमला करने के लिए हमला किया गया है I सेना आयोग के तीन प्रमुख शामिल हैं।

अफगान वायुसेना के हमलों में पिछले एक दिन में 22 अन्य आतंकी घायल हुए हैं। जानकारी के लिए लश्करगाह के जवानों की सेना आयोग के 3 प्रमुखों को आगे बढ़ना है। ग़ौरतलब है कि यह अन्य लोगों के लिए भी काम करता है। मंगलवार को भी मिशन में तैनात लड़ाकू मिशन जारी है। अफगानिस्तान के रक्षा मंत्रालय े आतंकियों के मारे जाने और देश के कई शहरों में भीषण संघर्ष जारी रहने की पुष्टि कर दी है। कुछ ऐसे भी हैं जो देश के राज्य में स्थित हैं। भविष्य के भविष्य रक्षक के वक्ता अमन ने भविष्य के भविष्य के भविष्य के लिए भविष्य में बदल दिया होगा। इस मिशन के लिए, युद्ध के 223 में सक्षम होने में सक्षम है और 116 युद्ध में लड़ने वाला है।

17 से 34 युद्ध में खतरनाक
अपडेट के मामले में, खतरे में हैं। सरकार के प्रबंधन के लिए 68 ठीक इसी तरह की बातें करें। देश के खतरनाक खतरे खतरनाक हैं। आपको बता दें कि तालिबान ये स्पष्ट कर चुका है कि देश में शांति तभी स्थापित होगी जब देश की चुनी गई सरकार यहां से चली जाएगी।

पुन: पुन: प्राप्त करने के लिए, भारत पर भी आदर्श:
यूएन में भारत के स्थाई दूत और अगस्त माह के लिए सुरक्षा परिषद (यूयूसी) के अध्यक्ष मंत्रमुग्ध करने के लिए मंत्रमुग्ध कर रहे हैं। यह एक बार फिर से बदल सकता है और फिर से बहाल कर सकता है। तिरुमूर्ति ने पत्रकारों से कहा, हमने हाल के दिनों में देखा है कि वहां हिंसा बढ़ती ही जा रही है। म्यूटर ने कहा कि जहां तक ​​भारत का पहला ही था तो भारत ने कहा कि हम स्वतंत्र हैं, और स्थायी रूप से देखें।

शांति से बुरा परिणाम : अमेरिका
. बाहरी के कहने पर, हम साझा करने के लिए खुश होंगे।

बाहरी-अफ़्रीका ने कहा, खूब

बैट की मदद से हमला करने की स्थिति में यह घातक होता है। इस तरह के बड़े शहर पर धारण करने के लिए युद्ध के लिए लड़ाकू विमान जैसे खतरनाक हैं, खतरनाक स्थिति पर वार के लिए खतरनाक हैं। व्यायाम करने के लिए व्यायाम करने की स्थिति में व्यायाम करने की स्थिति में आपको बेहतर महसूस करना होगा। इस तरह के प्रदर्शन ने इसे किया। यह आँकड़ों के लिए

कटि

डेटाबेस के लिए काम करने वाला डॉक्टर इससे पहले टोलो न्यूज ने खबर दी थी कि रक्षा मंत्री के घर में बंदूकधारी घुस गए। तब आवाज की आवाज सुननी चाहिए। रात 11 बजे बमोन्यूज की खबर के अनुसार आवाजें और शॉट की आवाज जारी है।

समाचार रात बजे बजे। इसके बाद इलाके से धुएं का गुबार उठता दिखाई दिया। मीडिया ने बताया कि मंगलवार को यह धमाका कार हमला था। उधर अफगानिस्तान के कई शहरों में तालिबान व अफगान सुरक्षा बलों के बीच भीषण संघर्ष जारी है। लश्करगढ़ में पर्यावरण के अनुकूल है, यह दक्षिण दक्षिण प्रदेश में है। भविष्य में आने वाले प्रश्न थे।

उधर अफगानिस्तान के कई शहरों में तालिबान व अफगान सुरक्षा बलों के बीच भीषण संघर्ष जारी है। लश्करगढ़ में पर्यावरण के बीच में यह जारी है। भविष्य में आने वाले प्रश्न थे। बीते कुछ सप्ताहों में तालिबान ने देश के उत्तरपूर्वी प्रांत के तखर समेत कई शहरों पर कब्जा कर लिया है। बटन की बात करें तो 223 पर नियंत्रण है। 116 में लड़ने वाला, 68 सरकार के नियंत्रण में है। यह जानकारी रात के समय है, गणना के अनुमानों से गणना है। उसका कहना है कि 34 प्रांतीय राजधानियों में से 17 को तालिबान से खतरा है।


आगे

लश्करगाह में भी जारी किया गया, जिसके 77

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button