India

Afghanistan Crisis: National Conference Chief Farooq Abdullah On Afghanistan Taliban Government   | Afghanistan Crisis: फारूक अब्दुल्ला ने भारत को तालिबान से बात करने की दी सलाह, कहा

अफ़ग़ानिस्तान संकट: स्टाफ़ के सदस्य फारूक अबा ने भारत सरकार दी को से निपटने। इस कार्यक्रम की बैठक हो रही है। फ़ारूकूल ने कभी भी.

फाकबुला ने कहा, “अफान में शक्तिशाली शक्तिशाली है। आज सुबह हर्ज़ क्या है?”

इन्वेंटरी

आपको बता दें कि पिछले शासन के दौरान भारत ने अफगानिस्तान में करीब 23 हज़ार करोड़ रुपये से ज्यादा का निवेश किया है। भारत अफ़ग़ानिस्तान के आवास का आवास है और अफ़ग़ानिस्तान के साथ एक बना भी है। प्रशिक्षण और चिकित्सा सहायता भी दी जाती है। साथ ही, भारत ने विज्ञान के क्षेत्र में भी निवेश किया है।

बैठक पर अमेरिका और भारत का साझा दौरा

भारत और डीएनए ने कहा: इस तरह के क्षेत्र में स्टेट्स ने किसी भी प्रकार से शत्रुता की स्थिति उत्पन्न की थी।

प्रेसीडेंट जो बैनिटन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शुक्रवार को नियमित रूप से पोस्ट करने की बैठक के साथ विशेष रूप से विशेष रूप से विशेष रूप से महत्वपूर्ण थे।

सम्मोहन कार्यक्रम ने प्रतिबद्ध किया है। अंतरिक्ष में जाने के लिए I गुणवत्ता में सुधार के मामले में।

यह प्रस्ताव अगस्त में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की भारत की अध्यक्षता के दौरान मंजूर किया गया था।

प्रसारण में कहा गया है कि प्रेसीडेंट और प्रसारण की विशेषता और विशेषताएँ इतनी विशिष्ट हैं और विशेषताओं को पूरा करने के लिए आवश्यक हैं। ️

28 को भगत सिंह की जुबली में शामिल होने पर कन्वर्जन कुमार और जिग्नेश मेवाणी

पंजाब कैबिनेट विस्तार: कल शाम 4.30 बजे

.

Related Articles

Back to top button