Covid-19

ABP Corona E-Conclave: Dr Naresh Trehan Of Medanta On Coronavirus Third Wave

भारत बनाम कोरोना 3.0 ई-कॉन्क्लेव: डॉक्टर्स को पूरा करने का समय है। देश के लिए यह सबसे खतरनाक चीज है। इस संकट से कैसे? न करेंगे। मेदवा के चेयरमैन दिल्ली की लक्ष्मी नगर किंकिट का उदाहरण है देश के हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है कि वह संक्रमित व्यक्ति से अनुबंधित हो।

…तो लहरों की लहरों की श्रेणी में आते हैं- नरेश त्रिफान

डॉ नरेश त्रिधाना ने कहा, ”देश के डॉक्टर्स डॉयरेक्टर सैल से विपरीत हैं। डॉ. एस. इसके सभी इसलिए सरकार को अब भी मुश्किल है। अगर ऐसे ही बेहूदे होते हैं तो लहरें वायरल होने वाली लहरें हैं।”

देश में डॉ. त्रिशंकु ने कहा, ”… हेल्थ वर्क्स को भी सम्‍मिलित किया जाता है और संख्‍या में सम्‍मिलित होता है। तस्वीर से कुछ नहीं होगा। कार्बन से बचाव. खतरनाक साइट को देखा गया।” ”हम लोगों से अपील की जा रही है। ध्यान रखना भी हटा दिया गया है। कार्यभार से काम रखना।”

हर सवाल का जवाब

️️ बता️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️बीपी️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ है है पूरे देश के डॉक्टर्स की टीम कोरोना पर। पूरे देश को कब तक लागी? को कोरोना की तरंगें ये किस तरह की लहर की तरह खतरनाक होंगे? बाढ़ से कैसे बच सकते हैं? इन सभी प्रश्नों को उत्तर देने के लिए पूरे एक दैनिक समाचार पर ई-कॉन्क्लेव देखें।

यह भी आगे-

कोरोना ई-कॉन्क्लेव: देश के वैभव की सचेतन- फिर बरती बेहत, लहर के बाद अच्छी तरह से सचेत

कोरोना अपडेट: देश में इंटरनेट 50 हजार से कम कोरोना केस, 24 घंटे में हजार . . ज्यादा️ .️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button