Panchaang Puraan

Aaj Ka Rashifal horoscope 17 september 2022 lucky zodiac signs rashi today bhavishyafal

राशिफल आज 17 सितंबर 2022 आज का राशिफल : ज्योतिषाचार्य पंडित नरेद्र उपध्याय

मौसम की स्थिति-राहु मीन राशि में हैं। मंगल ग्रह के साथ खुश हैं। सूर्य और शुक्र सिंह राशियों में हैं। वक्री बुध कन्‍या राशि में हैं। आप राशियों केतु हैं। मकर राशि वक्र शनि हैं। वीर गुरु मीन राशि में गोचर में चलने वाले हैं।

राशिफल-

मीन-संपन्न करने की क्षमता में वृद्धि हुई है और फिर वे संशोधित हैं। प्रेम और प्रजनन की अवस्थाएं मध्म होने वाली होती हैं। गलत मौसम में असामान्य स्थिति में। काली वस्तु का दान।

वृषभ-सहायता और सह-साथ-साथ। जक्स की श्रेणी में शामिल हों। बेहतर बेहतर है। प्रेम और संतान की स्थथ्‍य नीति मध्‍यम है। वैयापा प्रकाशिक दृष्टि से आप शुभ बनीं। लाल वास्तु का दान।

मिनट-खर्च की अधिकता खराब बनी हुई है। वायुमंडलीय, आँख की कीटाणुशोधक। काल्पनिक जांच। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम और बच्‍चन की स्थ‍ित्‍व ठीक ठीक है। व्‍यवसायिक क्षेत्र में वृद्धि आगे बढ़ेगी। लाल वास्तु का दान।

कर्क-स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ प्रेम और संतान की स्थिति भी उम्मीद की जा सकती है। व्‍यापारिक दृष्टिकोण से आप शुभता से भरी हुई हैं। रुका हुआ धन वापस। आई के उपयोगिता बनेंगे। शुभ समय है। लाल वस्तू।

सिंह-यात्रा में लाभ होगा। रुका हुआ काम ठीक से काम कर रहा था। ‍यवसकम काम बनेंगे। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍थीं। प्रेम-संतान मध्यम है। व्यापार उम्मीद है। सूर्यदेव को जल.

कन्या-स्थिति ठीक-ठाक होना। किसी भी प्रकार के व्यक्ति पर ध्यान दें। प्रेम-संतान मध्यम है। पूजा-पाठ में भाग लेने वाले। आपके काम में समय लगेगा। समय से बाहर। लाल वास्तु का दान।

तुम-सूचनाएँ हैं। बचकर पार करें। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम-संतान ठीक है। व्‍यापा दृष्‍टिकोण व्‍यवहार प्रक्रिया प्रक्रिया। सूर्यदेव को जल.

वृश्चिक-दैत्य का सानिध्व.. प्रिय-प्रेमिका की है। आगे बढ़ने के लिए आप आगे बढ़ेंगे। स्‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍, प्रेम और संतान भी बेहतर है। वैया कल्पना आशा आशा करता है। लाल वस्तू।

धनु-शत्रुओं पर दुश्मन। दुश्मन की भी रक्षा करें। ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍यं. प्रेम और उम्मीद की उम्मीद है। व्‍यापादर्शी दृष्टिकोण से शुभ समय है। बजरंग बली की आराधना.

मकर-धारणा को सम्‍मिलित किया गया है, मैं-आईटी के आधा हो सकता हूं। ग़लती की जाँच करने के लिए मन-परेशान त्रुटि। स्‍थ्‍य मध्‍यम, प्रेम-संतान की स्थिति मध्‍यम से उत्‍तम की ओर है। व्‍यापार ‍‍‍‍‍‍‍‍‍ माँ काली की अराधना..

कुंभ-भूमि, भवन, वाहन की गैस। घर में कुछ भी हो सकता है। मां के स्‍‍‍‍‍‍ध में सुधारा, स्‍‍‍‍‍‍‍‍य, वास, संतान मध्‍यम, व्‍यापार उम्‍मीद है। गोकू की गणेश अराधना.

मीन-व्‍यापादर्शी दृष्टिकोण से शुभ समय है। स्‍‍‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और उम्मीद की उम्मीद है। व्‍यापार मध्‍यम चल रहा है। लाल वस्तू।

प्रस्तुति-
अजय कुमार सिंह

Related Articles

Back to top button