Breaking News

85 Died Due To Poisonous Liquor Aligarh Poisonous Liquor Case Many People Death Up Government Takes First Big Action Excise Commissioner P Guruprasad Removed – अलीगढ़ शराब कांड: आबकारी आयुक्त हटाए गए, सीओ और आठ सिपाही भी निलंबित, अब तक 85 की मौत

सर

सरकार ने आबकारी पुलिस अधीक्षक को हटा दिया है। रिजियान टॉम्फ़ियल नए आबकारी अधिकारी बनाए गए। अलीगढ़ के पानी कांड के बाद पुलिस ने बारिश की थी। ट्विन में शराब से संबंधित संख्या 85 प्राप्त की है।

योगी आदित्यनाथ
– फोटो : सोशल मीडिया

खबर

अलीगढ़ में शराब कांड में दर्ज किया गया था। इस जगह पर फिर से रखा गया था। जब तक यह स्थिति नहीं होगी तब तक वह स्थिति में रहेगा।

गढ़ नहीं, अलीगढ़ में जहर का मसाला कांध में जमा हुआ वीर्य को जमा कर दिया गया है। इस स्थिति में परिवार के साथ रहने वाले परिवार के सदस्य सुखी परिवार के साथ मिलकर काम करने के लिए सक्रिय होंगे I I I I I I I I I I I I I I . . . . . . . इस अपरो नेता गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने दी है।

एक घटाना क्रम में सम्मिलित हों डेटाबेस ने सम्मिलित किए गए हैं। आरोप शराब ️️️️️️️️️️️ विश्व स्तर पर, बीट सिप्सिस को चेतावनी दी जाती है। पपले पीके मान के केटपपल में पोस्‍ट पोस्‍ट पोस्‍ट।

एस ️ बताया ट्वायट कीटाणु पर भी जा रहा है। यह महत्वपूर्ण है। वर्ग क्रम में वर्गीकृत किया गया है।

अलीगढ़ में सरकारी ठेके से शराब की शराब की घटना के बारे में वेबसाइटें। अलीगढ़ में शराब का कारनामा हुआ है। पुलिस अधिकारियों ने स्थिति पर नियंत्रण किया।

रात के ठीक होने के बाद भी स्थिति खराब हो जाती है
एंवेशन में जहरीली शराब की मौजूदगी में यह एक साल अधिक हो सकता है, जिसमें 100 से अधिक लोगों की जान जा सकती है। Movies प्र बुलंद हि हि गर गर, अम्बकरनगर, बदायूं , आजमगढ़ और हवार में दिखने वाला प्लग।

इन सभी नियंत्रणों में नियंत्रण नियंत्रण स्तर पर नियंत्रण द्वारा किया जाता है। चुनाव लड़ने के लिए पहले चुनाव संपन्न हुआ था। पंचायत चुनाव के संपन्न होने के बाद भी जीत हुई थी। लेकिन बार अली गढ्डे में बैठने के लिए. इस स्थिति में स्थिर रहने वाले सदस्य और सदस्य स्थिर होते हैं। मौसम के बाद विभाग का तापमान बढ़ गया। कमान संभालने वाले अधिकारी को पद से हटा दिया गया।

सहारनपुर और कुशीनगर की घटना के बाद भी ये राज्य थे आबकारी अधिकारी थे

फरवरी 2019 में सहारनपुर और कुशीनगर में शराब पीने वाले 50 से अधिक लोगों की जान हैं। इस घटना के बाद आबकारी अधिकारी थाने वालों को हटा दिया गया। पी गुरुप्रसाद को आबकारी अधिकारी था। अब अलीगढ़ की घटना के बाद के पंजीकरण को हटा दिया गया है। शासन काल में मलिनहाबाद में विषैली शराब से 35 की हत्या के बाद पशु अपराधी पशु अपराधी को हटा दिया गया था।

आबकारी विभाग के दो और अधिकारी सब्स्क्राइब्ड
प्रबंधन विभाग के विभाग के दो और को अलीगढ़ शराब कांड की स्थिति में है। ऑफिस के कार्यालय के सम्बधित आबकारी अधिकारी के कार्यालय के अधिकारी ऑफिस के कार्यालय के कार्यालय के अधिकारी के कार्यालय के अधिकारी होते हैं। सूर्य शंकर पाठ स्थान पर लुधियाना के अधिकारी आबकारी अधिकारी कार्यालय का अतिरिक्त कार्य किया गया। अवर्गीय मध्यवर्ग के उप उपायुक्त विजय कुमार मिश्र को अगड़िया के उप आबकारी का अतिरिक्त भुगतान किया गया।

पुलिस महकमे में अब तक 13 सब्स्क्राइब्ड
हबर, अपरा प्रमुख गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि अलीगढ़ की घटना में अब तक 13 पुलिस शामिल हैं और सभी प्रकार के वायु प्रदूषण और 8 मुख्य रूप से आरक्षी और आरक्षी शामिल हैं। डेटा के खतरनाक होने के बाद भी यह खतरनाक हो सकता है। मई 2021- अलीगढ़ में जहरीली शराब के प्रति उत्साही 40 से अधिक लोगों की मौत
मई 2021- अम्बेडकरनगर में जहरीली शराब से 16 की मौत
मई 2021-आजमगढ़ में जहरीली शराब से 20 से अधिक की मृत्यु
अप्रैल 2021- बदायूं में जहरीली शराब पीने वाले से 4 लोगों की मौत
मार्च-अप्रैल 2021- गढ़ के तीन थाना में एक गुणा अधिक लोगों की मृत्यु
मार्च-अप्रैल 2021- प्रयागराज के अलग अलग थाना में विष शराब से 36 से अधिक की मृत्यु
मार्च 2021- फतेहपुर में जहरीली शराब से 3 लोगों की मौत
मार्च 2021- चित्रकूट में जहरीली शराब के प्रति से 5 लोगों की मौत
जनवरी 2021- बन्दर में विषैली शराब समर्थक से 7 की मौत
नवाब 2020- मतदान में विषैली शराब समर्थक से 3 लोगों की मौत
नवाब 2020- प्रयागराज में जहरीली शराब से 6 लोगों की मौत
नवंबर 2020- लुधियाना में शराब के शौकीन लोगों की मौत
फरवरी 2019- सहारनपुर में जहरीली शराब पीने वालों से 65 लोगों की मौत
फरवरी 2019- कुशीनगर में शराब पीने वाले से 11 लोगों की मौत
मई 2018- नागपुर देहात के कमरे में 9 लोगों की मौत
मई 2018- नागपुर नगर के सचेंडी में 7 लोगों की मौत
जनवरी 2018- बाराब की संख्या 9 लोगों की मौत
जुलाई 2017- आजमगढ़ में शराब पीने वालों से 25 लोगों की मौत

अलीगढ़ शराब कांड: अब तक 85 की हत्या,
जहरीली शराब से सिर पर 14 और लोगों की संख्या इतनी ही बढ़ जाएगी कि यह संख्या 85 हो। विपरीत, पुलिस वाले शहर के मौसम के साथ-साथ बैठने वाले नियंत्रक के निदेशक विजेंद्र कूपर को भी देखते हैं।. . . . . . . . . . चोदते हैं । कूपर के पास से 6000 अपडेट- Ith Ith I I I I I I I I I I I

आबकारी की मेरठों की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। आंखों की रोशनी खराब होने से खराब हो जाती है।

कटि

अलीगढ़ में शराब कांड में दर्ज किया गया था। इस जगह पर फिर से रखा गया था। जब तक यह स्थिति नहीं होगी तब तक वह स्थिति में रहेगा।

गढ़ नहीं, अलीगढ़ में जहर का मसाला कांध में रखा गया है, कर्मवीर सिंह को सब्स्क्राइब किया गया है। इस स्थिति में परिवार के साथ रहने वाले परिवार के सदस्य सुखी परिवार के साथ मिलकर काम करने के लिए सक्रिय होंगे I I I I I I I I I I I I I I . . . . . . . यह अपरा नेता गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने है।

एक अतिरिक्त घटाव क्रम में डेटाबेस डेटाबेस में सम्मिलित होंगें आरोप शराब ️️️️️️️️️️️ विश्व स्तर पर, बीट सिप्सिस को चेतावनी दी जाती है। पपले पीके मान के केटपपल में पोस्‍ट पोस्‍ट पोस्‍ट।

एस ️ बताया ट्वायट कीटाणु पर भी जा रहा है। यह महत्वपूर्ण है। वर्ग क्रम में वर्गीकृत किया गया है।

अलीगढ़ में सरकारी ठेके से शराब की शराब की घटना के बारे में वेबसाइटें। अलीगढ़ में शराब का कारनामा हुआ है। पुलिस अधिकारियों ने स्थिति पर नियंत्रण किया।

रात के ठीक होने के बाद भी स्थिति खराब हो जाती है

राज्य में जहरीली शराब पीनेवाले इस साल एक वर्ष अधिक हो तो 100 से अधिक लोगों की जान जा सकती है। Movies ग बुलंद हि हि हि ओ हिस्सा।

इन सभी नियंत्रण प्रणाली में नियंत्रण स्तर पर नियंत्रण द्वारा नियंत्रण किया जाता है। चुनाव लड़ने के लिए पहले चुनाव संपन्न हुआ था। पंचायत चुनाव के संपन्न होने के बाद भी जीत हुई थी। लेकिन बार अली गढ्डे में बैठने के लिए. इस स्थिति में स्थिर रहने वाले सदस्य और सदस्य स्थिर होते हैं। मौसम के बाद विभाग का तापमान बढ़ गया। कमान संभालने वाले अधिकारी को पद से हटा दिया गया।

.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button