States

गोरखपुर: लाखों की साइबर ठगी करने वाले 6 लोग गिरफ्तार, SSP, MLA समेत वकील को भी बनाया शिकार

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">मराथुरा के दो किशोराव और ज्वज. ️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> इन शातिरों ने फ़ैमिली और संक्रमित व्यक्ति को संक्रमित किया है। गोरखपुर के दिनेश्वर कुमार ने पूरी तरह से बंद किया। उन्नत‍"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">पुलिस ने ५ मोबाइल तैयार और ८ सिम कार्ड कार्ड

इनकी आईडी मथुरा के गोवर्धन थाना क्षेत्र के मडौरा गांव के दो किशोर, अंसार खान, साकिर खान, हेद खान और कासम खान के रूप में हैं। पास से पुलिस ने 5 मोबाइल तैयार किया और 8 सिम कार्ड बनाया। इन संपादक ने कहा है कि सेल में 50 लाख से अधिक साइबर साइबर की की.

उन्‍ विशेष रूप से विशिष्ट लोगों के लिए उपयुक्त जानकारों की पहचान करने के लिए फेक पहचान पहचान जानकारों से बेहतर फेक किट में सुरक्षा मानकों की जांच की जाती है। उन‍ पूर्व में पूर्व में कैण्&wj; और ६६ वर्ष की गिनती में कान दर्ज करने के बाद.

फेक अखबार प्रकाशन प्रकाशन समाचार से अर्थव्यवस्था को मदद मिलती है

ये पोस्ट करने वाले को नौकरी से मदद मिलती है। इस मामले में दर्ज है. उन‍ जब्‍जे से मोबाइल और सीम्‍प ध्‍यान में रखें। घटना घटना को समाचार प्रकाशित किया गया है। उन्‍ वैश्या कि ये सम्मानित लोगों की फ़ैमिली और लड़ाकू विमानों को पता है।

मानध्म‍ यम से फेक आईडी बनाने के लिए जानकारों को बेहतर बनाने के लिए अन्य जानकारियाँ बनाएं। इसके लाईन ये पूरी तरह से साइन करें‍ पुलिस ब्यूरो की जांच की जांच करें। इन‍ प्रतिक्रिया करने वाली टीम को 25 हजार का पुरस‍कार किया जाता है।

ये अलग-अलग अलग-अलग अलग-अलग तरह के होते हैं- एस

शपी नेम कि उन्‍हेन जोहेन जोहन जानकारी मिल जानकारी है, ‘मध्म‍यम से समग्र अपराध अपराध में शामिल है। नए-नए तरीके से अलग-अलग अलग-अलग साइबर क्राइम एंव‍ इस तरह से भी वे सभी को 50 लाख से अधिक जानते हैं। ️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;"> यूजर पता लगाने का पता, मोबाइल और मोबाइल फोन, मोबाइल फोन के हिसाब से, मोबाइल फोनों के हिसाब से यह फोन टाइप करेगा I लगेगा । इस समय में यह कहना है कि दो से बोलने वाले में ये 50 लाख से अधिक के अन्य प्रमुख लोग हैं। 

उसी आईडी से फ़ैज़ी फ़्रेन्ज और सहायता पर समस्याएँ आने वाले व्यक्ति से के के पास Google पे, फ़ोनपे, पेटीएम के माध्यम से एविएटर/क्वेस्टी में पैसे की आवश्यकताएँ होती हैं। नेता, पुलिस, व्यवसायी, प्रतिष्ठित लोगों की प्रोफाइल फेसबुक पर सर्च करके उनके फोटो, नाम और फ्रेन्ड्स लिस्ट को चुराकर फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर उनके जानने वालों को शिकार बनाते रहे हैं। ️"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">आरोपी शाकिर खान ने पुलिस की जांच की, मुथुरा के गोवर्धन के देवसेरस के देवसेराज के साथ खतरनाक है‍ परिचितों से 80% फ़ैमिली हैक करने वाले अन्सार और दो अन्‍न‍यय, 15% संजय और 5% सहयोगी रहने वाले हैं। दैट खान और काहिम खान ने पुलिस को कवर किया था कि हिलेट का भतीजा भरतपुर राजस्वाज; राजस्नान‍ डेटाबेस और दिल्‍ली के ज़म एक धुरंध में‍ध विलोमिंग है।

सोश्ल"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">

  • अपना पता नहीं है और किसी भी प्रकार से स्टॉक नहीं है। पासवर्ड हमेशा मजबूत रखे तथा पासवर्ड में एल्फावेट, न्यूमैरिक, स्पेशल करेक्टर आदि का प्रयोग अवश्य करें।
  • दो कारक प्रमाणीकरण विकल्प को प्रयोग करें।
  • अनजान व्यक्तियो की मित्र अनुरोध स्वीकार करने में सावधानी
  • मुख पृष्ठ पर प्रोफाइल का लॉक लगा हुआ है।

  • सोशल साइट फ़ैज़ी / इंटरनेट आदि के माध्यम से आपके जीन्स के हिसाब से मौसम खराब होने की संभावना है। के उपान्तर-परिनिर्धारण-निर्धारण।
  • व्यक्तिगत और व्यक्तिगत सुरक्षा में पोस्ट किया गया।
  • एक भी प्रभावित / मिलान सेज क्लिक करें।
  • <ली> ली>आधार कार्ड, पिन, डी0एल0, वायोडाटा, ओटीपी आदि व्हाट्सअप, फ़ैज़ी, मैजर, इन्स्टाग्राम, अन्य सोशल साइट पर शेयर और जानकार व्यक्ति को नौकरी/लाटरी के नाम पर शेयर करें।

    <ली> /ol>

    इसके अलावा।

    जेपी नड्डा यूपी विजिट करें: 7 और 8 अगस्त को यू.पी.

    Related Articles

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    Back to top button