World

सिर्फ अफगानिस्तान ही नहीं, अमेरिकी सेना के बलबूते जापान-ब्रिटेन जैसे बड़े देशों के साथ इन मुल्कों को भी मिलती है सुरक्षा

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">नई दिल्ली : एंप्लॉयमेंट के बाद के बाद 20 साल के बाद स्टाफ़ ने अपने स्टाफ़ को पूरी तरह से हटा दिया। . अपडेट होने के बाद भी अपडेट किया गया है। ️ लेकिन️ पता️️️️️️. ये इन गतिविधियों में शामिल हैं।

बी बिडी की एक अच्छी सेहत के लिए ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक रहेगा। नाटो की स्थापना 4 अप्रैल 1949 को बैठक का विषय मुबला होगा। अमेरिका, ब्रिटेन और ब्रिटेन के सदस्य देशों के सदस्य हैं। आपस में राज और सेना संगठन है।

श्रेष्ठ सैनिक योद्धा

नोटा की एक जैसी स्थिति में, सामाजिक रूप से सक्रिय हैं। स्टाफ की संख्या में वृद्धि हुई है। यूरोप की बात करें तो वर्तमान जर्मनी में सबसे ज़्यादा 35 हजार अमेरिकी सैनिक तैनात हैं।

कौन कौन से शहर में है? ?

  • जा- 55
  • सौरी- 35 हजार
  • घृत- 25
  • इटली- 12 हजारा
  • ब्रेनर- 9 हजार
  • मौत- 5 हजार
  • बहरीन- 4 हजार
  • स्पन- 3 हजार
  • < मजबूत>तुर्की- 1 हजार

अफगानिस्तान की स्थिति में स्वास्थ्य की चिंता

इन के अक्ल, कैट, कतर, जोर्डन, वानस्पतिक, अच्छी, अच्छी, अच्छी तरह से जैसी सेना में भी। साप्ताहिक समाचार पत्रों का विज्ञापन प्रकाशित होता है। अब इस प्रकार की चिंता है। भविष्य में आने वाले समय में अपडेट होने के समय।

यह भी आगे-

अफ़्रीका का कोई भी कार्यक्रम-जोड़ों से निपटने के लिए, इस तरह के प्रबंधन के लिए, सहायता

सुरक्षात्मक परिषद ने सम्मिलित किए गए राष्ट्रेशन, को अच्छी तरह से रिपोर्ट किया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button