States

महिला प्रताड़ना के मामलों में लापरवाही बरतने वाले छह SHO पर गिरी गाज, कोर्ट ने वेतन रोकने का दिया आदेश

<पी शैली ="टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">पालगोगंज: बिहार के गोपालगंज में महिला प्रताड़ना के लिए बैन पर कुटुंब के न्यायाधीश के प्रमुख न्यायाधीश कुमार सिंह ने स्थापत्य से संबंधित अधिकारी को वेतनमान का आदेश दिया है। यह गोपालगंज के नगर थान, कुचायकोट, फुलवरिया, उचका गांव, मांझा व हथुआ के थान पर की है। कार्रवाई का आदेश देने के बाद अदालत ने रिपोर्ट की रिपोर्ट की. 

लापरवाही-1: ख़ैरों की गुणवत्ता

महिला प्रताड़ना के मामले में अदालत ने जांच की। कार्रवाई भी आईओ और थानेदार द्वारा नहीं किया जा रहा है। इस तरह के असुरक्षित पहनने के मामले में वे पहनने के लिए असुरक्षित होते हैं। न्याय ने घोष बेहूदगी है।

लापरवाही-2: खोसी की बीमारी की बैठक 

महिला प्रताड़ना के मामले में ऐसी ही गड़बड़ी हुई। प्रथम श्रेणी के आदेश के लिए आदेश जारी किए गए थे। ठीक ठीक ठीक ठीक ठीक हुआ"टेक्स्ट-एलाइन: जस्टिफाई;">पीड़ित मानसिकता

महिला प्रताड़ना के मामले में पुलिस पुलिस की कार्य शैली से खराब महिला ने कुटुम्ब में अदालत में पेश किया, जब खराब स्थिति ने प्रताड़ना के मौसम की स्थिति में बदल दिया। एक वीक के अंदर कानूनी रूप से खतरनाक है।

यह भी पढ़ें –

बिहार पुलिस वाले ‘गुंडागर्दी’, पान मसाला और धूमल प्रदूषण पर उड़ने वाली दी गर्मी से अधिक हानिकारक

< मजबूत>बिहार राजनीति कह: कुमार ने ‘पीएम मटेरिक’ कार्यक्रम को दौरा किया, फालतू, दावत से- अब बैठक बैठक मत करना>

.

Related Articles

Back to top button